Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > 'इको फ्रेंडली' राखी बांधकर बहनों ने दिया प्रकृति प्रेम का संदेश

'इको फ्रेंडली' राखी बांधकर बहनों ने दिया प्रकृति प्रेम का संदेश

इको फ्रेंडली राखी बांधकर बहनों ने दिया प्रकृति प्रेम का संदेश
X

चित्रकूट। धार्मिक एवं आध्यात्मिक दृष्टिकोण से बुंदेलखंड के बेहद महत्वपूर्ण जिले चित्रकूट के पूर्व माध्यमिक विद्यालय महाराजपुर में शनिवार को रक्षाबंधन का पर्व बेहद अनोखे अंदाज में मनाया गया। इस मौके पर फूलों से बनी 'इको फ्रेंडली' राखी मंत्रोच्चार के साथ भाईयों की कलाई पर बांध कर बहनों ने प्रकृति प्रेम का संदेश दया।

बहनों की रक्षा के संकल्प के पर्व रक्षाबंधन का बुंदेलखंड में बेहद खास महत्व है। भगवान श्रीराम की तपोभूमि चित्रकूट के पहाड़ी विकास खंड के पूर्व माध्यमिक विद्यालय महाराजपुर में शनिवार को इस पर्व को बड़े ही अनोखे तरीके से मनाया गया। विद्यालय में पढ़ने वाली सभी बहनों नें अपने भाइयों को दुर्वांकुर (दूर्वा) और फूलों से बनी 'इको फ्रेंडली' राखी बांधी और माथे पर चंदन का टीका लगाकर घर से बनी मिठाई खिलाकर उनकी लम्बी उम्र की कामना की। भाइयों ने भी अपनी बहनों को उपहार देकर उनकी रक्षा करने का संकल्प लिया।

धर्म नगरी में पहली बार किसी विद्यालय में इको फ्रेंडली राखी के जरिए रक्षाबंधन का पर्व मनाकर देश वासियों को प्रकृति से प्रेम करने का संदेश दिया गया है। विद्यालय के प्रधानाध्यापक राजेश कुमार सिंह और शिक्षक डॉ. रघुवंश भूषण पाण्डेय ने बताया कि रक्षाबंधन पर्व पर भाईयों की कलाई पर बांधने के लिए बहनों द्वारा दुर्वांकुर और फूलों से राखी बनाई गई। इसके माध्यम से यह संदेश दिया गया कि प्रकृति से प्रेम करना ही हमारा लक्ष्य है। प्रकृति बचाएं, धरा बचाएं और वातावरण को स्वच्छ और प्रदूषण मुक्त बनायें। विद्यालय के सहायक अध्यापक अरविंद कुमार शिवहरे ने इको फ्रेंडली राखी बनाने में छात्राओं का सहयोग किया। साथ ही-साथ रक्षाबंधन पर्व की विशेषता और महत्व और आज के इस आधुनिक भारत में इस पर्व की महत्ता आवश्यकता के बारे में बताया।

उन्होंने कहा कि प्रकृति के साथ हम अपने आप को जोड़कर रखें, जिससे हमारा समाज प्रदूषण मुक्त हो और वैभवशाली बने। हमारे जो मधुर रिश्ते हैं यह रिश्ते न केवल घर तक सीमित रहे बल्कि यह पूरे समाज व देश में फैले। इससे प्रेम सद्भाव भाईचारा बिना किसी भेदभाव,बिना किसी अस्पृश्यता,छुआछूत के चारों तरफ प्रसारित होग

इसी उद्देश्य को दृष्टिगत रख कर आज पूर्व माध्यमिक विद्यालय महाराजपुर मेें बहनों ने दुर्वांकुर और फूल की सहायता बनी इको फ्रेंडली राखी मंत्रोच्चार के साथ सभी भाइयों को बांधकर पूरे देश की मंगल कामना की गई।

Updated : 2018-08-26T13:25:33+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top