Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > पीलीभीत से यात्रियों को लेकर नेपाल जा रही बस पलटी, एक की मौत, 56 घायल

पीलीभीत से यात्रियों को लेकर नेपाल जा रही बस पलटी, एक की मौत, 56 घायल

- नानपारा-लखीमपुर मार्ग पर हुआ हादसा, 23 गंभीर यात्री मेडिकल कालेज रेफर

पीलीभीत से यात्रियों को लेकर नेपाल जा रही बस पलटी, एक की मौत, 56 घायल

बहराइच। पीलीभीत से यात्रियों को लेकर नेपाल जा रही निजी बस गुरुवार को नानपारा-लखीमपुर मार्ग पर पलटने के बाद 20 फीट नीचे गड्ढे में चली गई। बस में सवार एक यात्री की मौत हो गई, जबकि 56 यात्री घायल हुए हैं। इनमें 23 यात्रियों को हालत गंभीर में मेडिकल कालेज बहराइच रेफर कर दिया गया है। पुलिस ने एम्बुलेंस व प्राइवेट वाहनों की मदद से घायलों को सीएचसी पहुंचाया।

पीलीभीत जिले से डबल डेकर बस (यूपी 81 एएफ 8764) लगभग 60 यात्रियों को लेकर नेपालगंज के लिए रवाना हुई। पीलीभीत से रुपईडीहा होते हुए नेपालगंज जाने वाली बस डबल डेकर थी। इसलिए बस के नीचे व ऊपरी तल पर भी यात्री बैठे थे। ऐसे में बस में यात्रियों की संख्याा अधिक भी हो सकती है। साथ ही बस में बच्चे भी सवार थे। यह बस लखीमपुर से होते हुए बहराइच जिले में पहुंची। यहां से बस रुपईडीहा होते हुए नेपालगंज जा रही थी। नानपारा-लखीमपुर मार्ग पर ग्राम लक्ष्मणपुर मटेही के पास आज सुबह छह बजे चालक ने संतुलन खो दिया। इससे बस अनियंत्रित होकर पलटी और तीन बार पलटते हुए 20 फीट नीचे खड्ड में जा गिरी, जिससे बस के परखच्चे उड़ गए और चीख पुकार मच गई। मौके पर काफी संख्या में भीड़ जमा हो गई।

आसपास के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। डायल 112 पुलिस के साथ कोतवाली नानपारा व मोतीपुर पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से घायलों को बाहर निकाला। सभी को एम्बुलेंस व निजी वाहनों की मदद से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नानपारा पहुंचाया लेकिन बस में सवार पीलीभीत जिले के जहानाबाद गांव निवासी वीरचरण (40) पुत्र कालीचरण की मौत हो गई। बस में सवार 56 यात्रियों का चिकित्सकों ने इलाज किया। इनमें 23 यात्रियों को हालत गंभीर होने पर मेडिकल कालेज बहराइच रेफर कर दिया गया।

अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण रवींद्र कुमार ने बताया कि बस में 56 यात्री सवार थे। इनमें एक यात्री की मौत हो गई जबकि 23 यात्रियों की हालत गंभीर होने पर उन्हें मेडिकल कालेज रेफर किया गया है। शेष यात्रियों को प्राथमिक उपचार के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है।

Updated : 21 Nov 2019 7:37 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top