Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > उप्र : लखनऊ में कोरोना वायरस का पहला मामला, बिहार में पांच और संदिग्ध मरीज अस्पताल में भर्ती

उप्र : लखनऊ में कोरोना वायरस का पहला मामला, बिहार में पांच और संदिग्ध मरीज अस्पताल में भर्ती

उप्र : लखनऊ में कोरोना वायरस का पहला मामला, बिहार में पांच और संदिग्ध मरीज अस्पताल में भर्ती

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया है। कनाडा से लखनऊ अपने रिश्तेदारों से मिलने आई एक महिला डॉक्टर में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई। इसके अलावा बिहार में कोरोना वायरस के पांच और संदिग्धों का पता चला। इनमें दो पटना जबकि बाकी तीन फारबिसगंज, औरंगाबाद और समस्तीपुर के रहने वाले हैं। आपको बता देें कि देश भर में कोरोना के 62 पॉजीटिव मामले सामने आ चुके हैं।

फारबिसगंज का संदिग्ध मलेशिया टूर से तीन दिन पहले लौटा है। उसे अनुमंडलीय अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। इधर, पटना में पीएमसीएच की इमरजेंसी में भी कोरोना के दो संदिग्ध मरीजों को भर्ती कराया गया। इनमें एक औरंगाबाद तथा दूसरा समस्तीपुर का है। वहीं, एनएमसीएच में बुधवार को दो और संदिग्धों को भर्ती किया गया। दोनों पटना के ही रहने वाले हैं। इसमें 30 वर्षीय महिला राजस्थान जबकि 24 वर्षीय युवक दिल्ली से लौटा है।

कनाडा के टोरंटो शहर निवासी महिला डॉक्टर अपने पति के साथ 8 मार्च को लखनऊ के गोमती नगर में रिश्तेदारों से मिलने आई थी। बुधवार को महिला को बुखार महसूस हुआ और गले में खराश हुई। इसके साथ-साथ सर्दी-जुकाम भी शुरू हो गया। परिवारीजनों ने कोरोना की आशंका हुई। वह अपने पति के साथ केजीएमयू पहुंची। यहां डॉक्टर डी. हिमांशु की निगरानी में महिला डॉक्टर को भर्ती किया गया।

लार का नमूना जांच के लिए माइक्रोबायोलॉजी विभाग में भेज दिया गया। देर रात जांच रिपोर्ट आई जिसमें संक्रमण की पुष्टि हुई। संयुक्त निदेशक डॉ. विकासेंदु अग्रवाल ने बताया कि मरीज से संबंधित पूरी जानकारी जुटाई जा रही है। डॉक्टर डी. हिमांशु ने बताया कि पति की जांच कराई गई लेकिन उनमें संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई। फिलहाल मरीज व उनके पति को अलग-अलग कमरे में भर्ती रखा गया है।

पूछताछ में महिला डॉक्टर ने बताया कि कि वह मुंबई होते हुए लखनऊ आई हैं इस दौरान वह कितने लोगों के संपर्क में आई हैं इसकी पूरी जानकारी उन्होंने टीम को दे दी है। अब टीम इस रिपोर्ट को उच्च अधिकारियों से साझा करेगी ताकि संक्रमण के फैलाव को रोका जा सके।

झारखंड के रांची में कोरोना की जांच के लिए तीन संदिग्ध का सैंपल लिया गया। रिम्स के माईक्रो बायोलॉजी विभाग द्वारा तीनों के स्वाब व ब्लड का सैंपल लेकर जांच के लिए एनआईसीईडी कोलकाता भेज दिया गया है। जिन तीन संदिग्ध के सैंपल लिए गए हैं, उनमें दो रांची के हवाई नगर के रहने वाले पति-पत्नी हैं, जबकि एक रांची के ही सीआरपीएफ कैंप में रहने वाला जवान है। तीनों को रिम्स के आयसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया। बता दें कि कोरोना संदिग्ध पति-पत्नी जर्मनी गए थे। वहां से गत छह मार्च को वे लोग लौटे हैं। सीआरपीएफ का जवान राजस्थान गया था। वहां से दिल्ली होते हुए वह हवाई मार्ग से रांची लौटा है। सर्दी, खांसी व बदन दर्द की शिकायत के बाद तीनों का सैंपल लिया गया है।

Updated : 12 March 2020 9:46 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top