Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > राष्ट्रवासी राष्ट्र निर्माण के लिए स्वयं काे प्रतिबद्ध करें : योगी आदित्यनाथ

राष्ट्रवासी राष्ट्र निर्माण के लिए स्वयं काे प्रतिबद्ध करें : योगी आदित्यनाथ

संविधान दिवस पर मुख्यमंत्री ने दी भारतवासियों को बधाई

राष्ट्रवासी राष्ट्र निर्माण के लिए स्वयं काे प्रतिबद्ध करें : योगी आदित्यनाथ
X

लखनऊ। भारत की जनता देश के लोकतंत्र का आधार है। प्रत्येक नागरिक गणतंत्र का निर्माता होने के साथ-साथ इसका आधार स्तंभ भी है। प्रत्येक भारत वासी हमारे लोकतंत्र को शक्ति प्रदान करता है। अपने दायित्वों का निर्वहन कर उसे शक्तिशाली भी बनाता है। राष्ट्र निर्माण एक महा अभियान है। इसमें प्रत्येक भारतवासी की महत्वपूर्ण भूमिका है। उत्तर प्रदेश इसमें महत्वपूर्ण योगदान कर सके, इसके लिए हम संकल्पबद्ध हो सकें। एक शक्तिशाली भारत के निर्माण के लिए मूल कर्तव्यों का पालन करने के लिए संकल्प लें। ये बातें संविधान दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगों बधाई देते हुए कही।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रत्येक राष्ट्रवासी राष्ट्र निर्माण के लिए स्वयं काे प्रतिबद्ध कर सके। इस उद्देश्य से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संविधान को अंगीकार करने के दिन को संविधान दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की। इस वर्ष भारत 70वीं वर्षगांठ मना रहा है। भारत के संविधान में जहां एक तरफ व्यापक अधिकार प्रदान किया गया है। अनुच्छेद 51 में कर्तव्यों के प्रति मार्गदर्शन भी किया गया है।

उन्होंने कहा कि देश की एकता-अखंडता के लिए प्रयासरत रहने के साथ-साथ एक भारत श्रेष्ठ भारत के रूप में विश्व के समक्ष देश को प्रस्तुत करना आवश्यक है। इसके लिए हमें अपने कर्तव्यों के पालन करने पर भी ध्यान देना होगा।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार संविधान दिवस से विभिन्न कार्यक्रमों की श्रृंखला आयोजित कर रही है। यह बाबा साहेब भीमराव आंम्बेडर की जयंती 14 अप्रैल, 2020 तक चलेगा। इसके माध्यम से लोगों में मूल कर्तव्यों के लिए जागरूकता लाई जायेगी। संविधान के अनुच्छेद 51 क में 11 मूल कर्तव्य दिये गये हैं। देश और प्रदेश को विश्व पटल पर प्रमुख स्थान दिलाने के लिए मूल कर्तव्यों का पालन करना भी आवश्यक है। इसी उद्देश्य से 26 नवम्बर को राज्य विधान मंडल का एक विशेष सत्र भी बुलाया गया है। 26 नवम्बर को समस्त शासकीय संस्थानों, थाना, ब्लाक, ग्राम पंचायत, नगर निकायों आदि में संविधान के प्रति आस्था की शपथ दिलाई जाएगी। इस श्रृंखला में विशिष्ट दिवसों को विभिन्न कार्यक्रम प्रस्तुत होंगे। हम अपने संविधान में वर्णित अनेकता में एकता, न्याय तथा समानता की भावना को सुरक्षित रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

Updated : 26 Nov 2019 8:00 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top