Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > मुख्यमंत्री योगी ने युवाओं को वितरित किए सुरक्षा गार्ड प्रशिक्षण प्रमाणपत्र

मुख्यमंत्री योगी ने युवाओं को वितरित किए सुरक्षा गार्ड प्रशिक्षण प्रमाणपत्र

राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय ने युवाओं को दिया प्रशिक्षण

मुख्यमंत्री योगी ने युवाओं को वितरित किए सुरक्षा गार्ड प्रशिक्षण प्रमाणपत्र
X

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को लोकभवन में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान 250 युवाओं को सुरक्षा गार्ड प्रशिक्षण प्रमाणपत्र वितरित किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के मंशानुरूप राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय युवाओं को हुनरमंद बना रहा है। राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय ने उप्र सरकार के साथ मिलकर कौशल योजना के तहत सुरक्षा गार्डों को प्रशिक्षण दिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारे ऋषियों ने बहुत बड़ी बात कही थी कि कोई व्यक्ति अयोग्य नही है, बशर्ते उसे कोई योग्य योजक मिल जाये। आज की आवश्यकता समाज की आवश्यकता के अनुसार डिग्री कोर्सेज की जरूरत होती है। यह कार्य आज प्रधानमंत्री मोदी के मंशानुरूप राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय कर रहा है।सरकारी सुरक्षा हर प्रतिष्ठान नहीं रख सकता। यह सभी जानते हैं। सरकारी सुरक्षागार्ड रखना बहुत महंगा होता है। आज समय अनुरूप हमको बड़े औद्योगिक, प्रतिष्ठानों संस्थानों की भी सुरक्षा करनी होती है। हर संस्थान निजी सुरक्षा व्यवस्था रखते हैं। यह कम खर्चीला और आसान होता है। कई लोग परिस्थितियों वश अपने घर परिवार से दूर नहीं जा पाते। उन्हें पार्ट टाइम यह कार्य करने का अवसर वहीं मिले, यह एक अभिनव प्रयोग है।

उन्होंने कहा कि स्किल डेवलपमेंट के कार्य आज बहुत महत्वपूर्ण हो गए हैं। हमने भी इस दिशा में विश्वकर्मा श्रम योजना शुरू की। श्रम को स्किल के साथ जोड़ने का कार्य हो रहा है। हम उन्हें प्रशिक्षण देते हैं। उस दौरान मानदेय भी देते हैं। आज ऐसे हज़ारों खुशहाल परिवार मौजूद हैं। आज गांव का व्यक्ति खुद का सैलून चला रहा है। साथ ही अन्य को रोजगार भी दे रहा है।मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सुरक्षा क्षेत्र में यह अभिनव शुरुआत हुई है। निजी संस्थानों में रिटायर आर्मी मैन ही सुरक्षा के साथ जुड़ते थे लेकिन अब यह राष्ट्रीट रक्षा विश्वविद्यालय द्वारा प्रमाणित किया जा रहा है। साइबर अपराध पर पर भी निगरानी हो रही है। आज हमारे प्रदेश में हर क्षेत्र में लैब स्थापित किये जा चुके हैं। पुलिस के पास फोरेंसिक इंस्टीट्यूट भी मौजूद है। इस दिशा में अच्छा कॅरियर बन सकता है। यह प्रशिक्षण युवाओं को स्वावलंबी बनाएगा और प्रतिभा को एक मंच भी मिलेगा।

Updated : 25 Aug 2022 3:41 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top