Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > बीटीसी अभ्यर्थियों ने सरकार के खिलाफ निकाला पैदल मार्च

बीटीसी अभ्यर्थियों ने सरकार के खिलाफ निकाला पैदल मार्च

बीटीसी अभ्यर्थियों ने सरकार के खिलाफ निकाला पैदल मार्च
X

लखनऊ। 68500 सहायक अध्यापक लिखित भर्ती में रिक्त 26944 पदों को भरने और कटऑफ में संशोधन को लेकर बीटीसी अभ्यर्थियों ने लक्ष्मण मेला पार्क से हजरतगंज स्थित महात्मा गांधी पार्क तक पैदल मार्च कर विरोध प्रदर्शन किया। पुलिस अभ्यर्थियों को पार्क में धरने की अनुमति नहीं मिलने का हवाला देकर हिरासत में लेते हुए बस से गोसाईगंज थाने ले गयी। आरोप है कि कुछ छात्रों से बस में पुलिस द्वारा बदसलूकी भी की गयी।

प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे आदित्य पांडेय ने बताया की 25 मई को संशोधित शासनादेश में न्यूनतम अहर्ता 33 एवं 30 प्रतिशत निर्धारित किया गया था । लेकिन उच्य न्यायालय में कुछ कारणों से याचिका डाली गयी। जिसके बाद सरकार द्वारा 40 एवं 45 प्रतिशत योग्यता निर्धारित की गई।जिससे केवल 41556 अभ्यर्थी ही पास हो पाये जबकि पूर्व निर्धारित प्रतिशत से किसी को कुछ नुकसान नहीं है। परीक्षा पूर्व निर्धारित प्रतिशतों पर हुई लेकिन उस पर रोक लगाने से कई बीटीसी अभ्यर्थियों का भविष्य खत्म होने के कगार पर है। उन्होंने कहा कि पूर्व में धरने में जिस प्रकार छात्रों और छात्राओं के साथ बदसलूकी की गयी, उसके जिम्मेदारों पर सरकार ने कोई कार्यवाही नहीं की। साथ ही जो लिखित परीक्षा में शामिल नहीं हुए थे, उनको धांधली कर शिक्षक बना दिया गया।

छात्रों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मांग की है कि रिक्त पदों को 02 अक्टूबर तक भर वंचित अभ्यर्थियों को शिक्षक बनने का मौका दे या उनके लिए अर्थी का प्रबंध करें। साथ ही इस लिखित परीक्षा ​की जांच हो। बता दें कि कई दिनों से अभ्यर्थी अपनी मांगों को लेकर राजधानी में डटे हुए हैं।

Updated : 2018-09-13T20:47:08+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top