Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > आगरा > महाशिवरात्रि पर प्रतिमा स्थापना को लेकर भिड़े दो समुदाय

महाशिवरात्रि पर प्रतिमा स्थापना को लेकर भिड़े दो समुदाय

महाशिवरात्रि पर प्रतिमा स्थापना को लेकर भिड़े दो समुदाय
X

पथराव और बवाल के बाद फोर्स तैनात पुलिस के सामने भी होती रही मारपीट

आगरा। महाशिवरात्रि पर लोहामंडी के मोहल्ला पुरानी गढ़इया में खाली जमीन पर मूर्ति स्थापना करने पर बवाल हो गया। दो पक्षों में मारपीट के बाद पथराव होने लगा। इससे सांप्रदायिक तनाव फैल गया। सूचना पर पहुंची पुलिस के सामने भी लोग मारपीट करते रहे। बाद में तीन थानों की पुलिस फोर्स पहुंची। तब बवाली भाग खड़े हुए।

बता दें कि किदवई पार्क के पीछे मोहल्ला पुरानी गढ़इया में खाली जमीन है। इस पर वाल्मीकि बस्ती के लोग प्रतिमा स्थापना करना चाहते थे, जबकि बड़ा अखाड़ा मोहल्ले का एक परिवार विरोध कर रहा था। एक पक्ष की ओर से वाल्मीकि बस्ती निवासी कुसुम साहू ने बताया कि जिस जमीन पर प्रतिमा लगाई जा रही थी, वो नजूल की है। वो कई दिन से प्रतिमा लगाने की तैयारी कर रहे थे। इसके लिए सफाई भी कर दी थी। वहीं दूसरे पक्ष के चश्मुद्दीन उर्फ भइये ने कहा कि 300 वर्ग गज जमीन उनकी है। यह जमीन उनके पुरखों की है। इसके दस्तावेज भी उनके पास हैं। नगर निगम का असिसमेंट भी है। मगर, मोहल्ले के लोग जमीन पर कब्जा करना चाहते हैं। सोमवार दोपहर ढाई बजे वाल्मीकि बस्ती के लोग आ गए। उन्होंने प्रतिमा लगा दीं। उन्होंने विरोध किया। इससे दोनों पक्षों में विवाद के बाद मारपीट हो गई। दोनों पक्षों के लोगों के आने पर पथराव होने लगा। सूचना पर पुलिस पहुंच गई। पथराव करने वाले भाग गए। मगर, मारपीट होती रही। सूचना पर लोहामंडी, जगदीशपुरा और हरीपर्वत थाना की फोर्स पहुंच गई। तब लोगों को हटाया गया। इस संबंध में सीओ लोहामंडी चमन सिंह चावड़ा ने बताया कि विवाद की वजह पता की जा रही है। दोनों पक्षों से दस्तावेज दिखाने के लिए बोला गया है। आरोपियों को चिह्नित कर कार्रवाई की जाएगी।


Updated : 2019-03-04T21:31:57+05:30

Naveen

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Next Story
Share it
Top