Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > आगरा > विहिप कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन से हिला प्रशासन

विहिप कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन से हिला प्रशासन

विहिप कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन से हिला प्रशासन
X

24 घंटे का दिया अल्टीमेटम, कार्यवाही का मिला आश्वासन

आगरा। ताजमहोत्सव में मंगलवार को आईआईएफटी के मॉडल्स द्वारा मुक्ताकाशीय मंच पर राष्ट्रीय गीत वंदे मातरम पर किए गए कैटवाक से विहिप व बजरंगल दल कार्यकर्ताओं में गहरा आक्रोश व्याप्त हो चला है। गुरूवार को विहिप व बजरंगदल कार्यकर्ताओं ने ताज रोड स्थित पर्यटन कार्यालय का घेराव किया और ताज महोत्सव के कार्यक्रम संयोजक, आईआईएफटी के निदेशक के खिलाफ तल्काल मुकदमा पंजीकृत करने की मांग की।

जुलूस के रूप में एकत्रित होकर विहिप-बजरंगदल कार्यकर्ताओं के पर्यटन कार्यालय पहुंचने से पूर्व की बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी पहले से ही मौजूद थे। पुलिस ने जुलूस को बीच में रोकने का प्रयास किया लेकिन, कार्यकर्ताओं के आक्रोश के सामने पुलिस प्रशासन को पीछे हटना पड़ा और पर्यटन कार्यालय में प्रवेश कर गए। हालांकि कार्यालय में पर्यटन अधिकारी व कर्मचारी नहीं मिले। मौके पर एडीएम सिटी केपी सिंह व सीओ सदर उदयराज सिंह मय फोर्स पहुंच गए। कार्यकर्ताओं ने अधिकारियों से ताज महोत्सव में कश्मीरी शिल्पियों के स्टॉॅल्स व बिना जांच किए वंदे मातरम की धुन पर फैशन शो आयोजित कराने वालों के खिलाफ कार्रवाही की मांग की।


इस दौरान बजरंग दल के प्रांत संयोजक राकेश त्यागी ने कहा कि ताज महोत्सव में वर्षो से कार्यक्रम संयोजक का काम केवल सुधीर नारायण देख रहे हैं और शहर के किसी भी कलाकार व सांस्कृति कर्मी व बुद्धिजीवियों से विमर्श किए बिना अपनी मर्जी से ताज महोत्सव में कार्यक्रमों को तय करते हैं। इसमें पर्यटन अधिकारी मौन बने रहते हैं और एक ही आदमी पर पूरा महोत्सव सौंप देते हैं। जबकि ताजमहोत्सव आगरा व प्रदेश की सांस्कृति विरासत को प्रचारित करने की दृष्टि से होता है। राकेश त्यागी ने कहा कि पर्यटन विभाग के अधिकारियों, आईआईएफटी के मॉडल्स द्वारा राष्ट्रगीत वंदे मातरम का जो अपमान किया गया है, उसे कार्यकर्ता सहन नहीं करेंगे। विहिप महानगर अध्यक्ष दीपक अग्रवाल ने कहा की वंदे मातरम सिर्फ एक गीत नहीं है, यह राष्ट्रीय आराधना है। उन्होंने कहा कि वंदे मातरम की धुन पर मॉडल्स द्वारा कैट वाक करने से उनकी व शहरवासियों की भावनाएं आहत हुईं हैं। इसलिए दोषियों के खिलाफ राष्ट्र विरोध की धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर कठोर कार्रवाही की जाए। विहिप कार्यकर्ताओं ने मौके पर ही एडीएम सिटी को उप्र के मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन भी सौंपा। इस दौरान विहिप प्रांत सह संपर्क प्रमुख रवि दुबे, विहिप प्रांत उपाध्यक्ष सुनील पाराशर, दिग्विजय नाथ तिवारी, अनूप वर्मा, अनुपम पंडित, विनोद माहौर, श्याम माहौर, पवन धाकड, अमित खटीक, अवनीस शर्मा, भोले ठाकुर, अभिषेक शर्मा, गगन तोमर, वेद गोस्वामी आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

वर्जन

विहिप कार्यकर्ताओं द्वारा ज्ञापन दिया है। मामले की जांच कराकर जो भी नियमानुसार वैधानिक कार्यवाही संभव होगी, करायी जाएगी।

केपी सिंह, एडीएम सिटी, आगरा।

Updated : 2019-02-21T22:03:04+05:30

Naveen

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Next Story
Share it
Top