Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > आगरा > कलक्ट्रेट में आंसू भरी दहाड़ों को देख लोगों के ठिठके कदम

कलक्ट्रेट में आंसू भरी दहाड़ों को देख लोगों के ठिठके कदम

कलक्ट्रेट में आंसू भरी दहाड़ों को देख लोगों के ठिठके कदम
X

40 दिन के बाद भी हत्यारों को नहीं पकड़ पायी है पुलिस

बबलू यादव के परिजनों ने न्याय के लिए किया विलाप

आगरा। प्रॉपर्टी डीलर बबलू यादव के परिजनों ने सोमवार को कलक्ट्रेट में धरना प्रदर्शन किया। एसएसपी ऑफिस के बाहर धरने पर बैठे परिजनों का आरोप है कि पुलिस प्रॉपर्टी डीलर के हत्यारों का कोई भी सुराग नहीं लगा पाई है। 72 घंटे में हत्यारों को पकडने का दावा करने वाली पुलिस 40 दिन भी खाली हाथ है। धरने के दौरान प्रॉपर्टी डीलर के परिवार की महिलाओं ने अपने हाथों में कानून व्यवस्था हुई विफल लिखीं तख्तियां पकड़ी हुई थीं। प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाने के साथ महिलाएं इंसाफ के लिए विलाप कर रही थीं।

बता दें कि विगत 15 नवंबर को आगरा- मथुरा हाइवे पर प्रॉपर्टी डीलर बबलू यादव की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। होली पब्लिक स्कूल में पढने वाले अपने पांच वर्ष के भतीजे को छोडने के लिए बबलू घर से निकला था। स्कूल के पास पहुंचने पर बाइक सवार बदमाशों ने बबलू पर गोलियां दाग दीं। हत्यारे हेलमेट लगाए हुए थे। पूरी वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई थी। दिन दहाड़े हुई वारदात से शहर में सनसनी फैल गई थी। आक्रोशित लोगों ने पुलिस को हत्यारों का सुराग लगाने के लिए 72 घंटे का अल्टीमेटम दिया था। सफल न होने पर पुलिस ने दो दिन का समय और मांगा। परिजन शांत रहे। फिर भी पुलिस खाली हाथ रही। लोगों का दवाब बढने पर पुलिस ने पांच दिन का और समय मांगा। इधर परिजन का कहना है कि बबलू की हत्या के बाद से वे दहशत में हैं। परिवार के किसी अन्य सदस्य के साथ वारदात न हो जाए इसके चलते वे घरों में कैद रहते हैं। पुलिस हत्यारों के सुराग और उनकी सुरक्षा के लिए कोई कार्रवाई नहीं कर रही।


Updated : 2019-01-28T20:16:36+05:30

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top