Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > आगरा > विपक्ष चाहे कितना भी मजाक बनाए, ताजनगरी के युवकों को भा गया पकौड़े का व्यवसाय

विपक्ष चाहे कितना भी मजाक बनाए, ताजनगरी के युवकों को भा गया पकौड़े का व्यवसाय

-प्रधानमंत्री की स्टार्ट अर्प योजना से प्रभावित होकर शुरू किया व्यवसाय

विपक्ष चाहे कितना भी मजाक बनाए, ताजनगरी के युवकों को भा गया पकौड़े का व्यवसाय

आगरा। पुराने शहर स्थित नूरी दरवाजा का नाम स्मरण आते ही अमर शहीद भगत सिंह की याद ताजा हो जाती है। क्योंकि आजादी के लड़ाई के दिनों में शहीद भगत सिंह ने इसी क्षेत्र के एक मकान में अन्य क्रान्तिकारियो के साथ मिलकर बम बनाये थे ताकि अंग्रेजी हकूमत को हिला सके। जहां कभी क्रांतिकारियों ने बम बनाये थे, वही उसी भवन के एक हिस्से में अब पीएम मोदी के स्टार्ट अप योजना से प्रभावित होकर ताजनगरी के चार बेरोजगारों ने पकोड़ा व्यवसाय अपनाते हुए दुकान खोली है।

प्रधानमंत्री के मन की बात पर चाहे विपक्ष कितना भी बवाल मचाये, लेकिन आगरा के चार बेरोजगारों ने अमल में लाकर अपनी जिंदगी बदलने की ठान ली। जी हां, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सुझाव था कि पकौड़े तलकर भी रोजगार हासिल किया जा सकता है। इसी बात को आगरा के बेरोजगारों ने चैलेन्ज के तौर पर लिया और पकौड़ेबनाने का काम शुरू कर दिया।

सालिगराम गर्ग ने अपने तीन बेरोजगार दोस्तो ने मोदी पकोड़ा भंडार के नाम से पकौड़ा सेन्टर खोला। इनके द्वारा खोला गया मोदी पकौड़ा दो दिन में ही क्षेत्र में काफी फेमस हो गया। इनके द्वारा मोदी नाम लिखा पकोड़ा सबसे ज्यादा फेमस हो रहा है। वही दुकान का नाम मोदी पकोड़ा भंडार रखे जाने के बारे में बताया गया कि मोदी जी की पकोड़ा व्यवसाय की योजना से प्रेरित होकर काम शुरू किया गया है।

Updated : 18 July 2019 1:27 PM GMT

स्वदेश आगरा

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top