Top
Home > राज्य > वीएनआईटी ने अंग्रेजों की इस परंपरा को किया खत्म

वीएनआईटी ने अंग्रेजों की इस परंपरा को किया खत्म

वीएनआईटी के दीक्षांत समारोह में विद्यार्थी बिना किसी ड्रेस कोड के पदवी को स्वीकार कर सकेंगे

वीएनआईटी ने अंग्रेजों की इस परंपरा को किया खत्म
X

नागपुर/स्वदेश वेब डेस्क। नागपुर स्थित विश्वेश्वरैया राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (वीएनआईटी) ने दीक्षांत समारोह को लेकर बड़ा फैसला लिया है। संस्थान में 'कैप' और 'काला गाउन' पहनने की अंग्रेजों के जमाने की परंपरा का निर्वाह अब नहीं होगा। संस्थान के 15 सितम्बर को आयोजित दीक्षांत समारोह में विद्यार्थी बिना किसी ड्रेस कोड के पदवी को स्वीकार करेंगे। ऐसा निर्णय लेने वाला वीएनआईटी देश का पहला इंजीनियरिंग संस्थान है।

वीएनआईटी प्रबंधन परिषद के अध्यक्ष विश्राम जामदार ने बताया कि इस बार का दीक्षांत समारोह को अलग ढंग से आयोजित करने निर्णय लिया गया था। अंग्रेजों के जमाने से चला आ रहा ड्रेस कोड खत्म करने से पहले संस्थान में पढ़ने वाले 600 विद्यार्थियों की निजी राय पूछी गई। उसके बाद यह प्रस्ताव विधि सभा के सामने मंजूरी के लिए रखा गया। इस फैसले पर विधि सभा ने मंजूरी की मोहर लगा दी है। अब दीक्षांत समारोह में आने वाले छात्र सफेद शर्ट, काली पैंट व छात्राएं सफेद सलवार और साड़ी पहन के शिरकत कर सकेंगे।

अगले वर्ष पारंपारिक वेशभूषा में दिखेंगे विद्यार्थी

संस्थान के संचालक डॉ. प्रमोद पडोले ने बताया कि उनके संस्थान ने अंग्रेजों का ड्रेस कोड बदलने का फैसला बिना किसी दबाव में लिया है। इतना ही नहीं अगले साल से विद्यार्थी अपनी पारंपरिक वेशभूषा में दीक्षांत समारोह में हिस्सा ले सकेंगे। संस्थान में पूरे देश से विद्यार्थी पढ़ने आते हैं। वह विभिन्न प्रांतों का प्रतिनिधित्व करते हैं। अगले साल से विद्यार्थी अपने प्रांतों के पोशाक पहन कर दीक्षांत समारोह में सम्मिलित हो सकेंगे।

Updated : 2018-09-14T16:43:26+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top