Home > राज्य > अन्य > रालेगण सिद्धि में फडणवीस ने अन्ना हजारे को नींबू पानी पिलाकर कराया अनशन खत्म

रालेगण सिद्धि में फडणवीस ने अन्ना हजारे को नींबू पानी पिलाकर कराया अनशन खत्म

रालेगण सिद्धि में फडणवीस ने अन्ना हजारे को नींबू पानी पिलाकर कराया अनशन खत्म
X

मुंबई। अहमद नगर जिले में स्थित रालेगण सिद्धि में मंगलवार को वरिष्ठ समाजसेवक अन्ना हजारे ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह और केंद्रीय रक्षामंत्री सुभाष भामरे के साथ 6 घंटे तक लगातार मैराथन बैठक के बाद अपना 7 दिनों तक चला आ रहा अनशन नींबू पानी पीकर खत्म किया । बैठक के बाद अन्ना ने पत्रकारों को बताया कि उनकी सभी मांगें मान ली गई हैं, इसलिए वह अपना अनशन समाप्त कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने पत्रकारों को बताया कि राज्य में नए लोकायुक्त कानून के लिए समिति गठित की जाएगी। साथ ही लोकपाल की नियुक्ति की प्रक्रिया भी जल्द शुरू की जाएगी और 13 मार्च तक इस प्रक्रिया को पूरा कर लोकपाल की नियुक्ति कर दी जाएगी।

इसी प्रकार चर्चा के दौरान केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने कृषि मूल्य आयोग को स्वायत्तता प्रदान करने का आश्वासन अन्ना हजारे को दिया है। साथ ही कृषि उत्पाद की दर तय करने के लिए अलग से समिति स्थापित किए जाने तथा समिति में अन्रा हजारे की ओर से तय किए गए सदस्यों का समावेश किए जाने का भी आश्वासन दिया गया है। कृषि उत्पादों के लिए एक अलग से समिति गठित किए जाने का आश्वासन मुख्यमंत्री ने अन्ना हजारे को दिया है और कहा कि यह समिति अध्ययन कर उपाय योजना बताएगी। मुख्यमंत्री ने बताया कि बजट सत्र में ही अन्ना की हर मांग को पूरा किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि वरिष्ठ समाजसेवक अन्ना हजारे ने लोकपाल विधेयक लागू किए जाने, किसानों के कृषि उत्पाद को उचित भाव दिए जाने, केंद्रीय कृषि आयोग को स्वायत्तता प्रदान किए जाने के समर्थन में 30 जनवरी से अनिश्चितकालीन अनशन शुरू किया था। चिकित्सकों के मुताबिक पिछले सात दिनों में उनका वजन चार किलो 30 ग्राम कम हो चुका है। इसे देखते हुए आज मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह, केंद्रीय रक्षा राज्यमंत्री सुभाष भामरे, राज्य के जलसंपदा मंत्री अपने सभी पूर्व नियोजित कार्यक्रम रद्द कर रालेगण सिद्धि गांव में पहुंचे थे और अन्ना हजारे के साथ 6 घंटे तक लगातार चर्चा करने के बाद उनकी सभी मांगों को लिखित रूप में स्वीकार कर लिया है।

Updated : 2019-02-05T21:28:39+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top