Top
Home > खेल > क्रिकेट > क्या विश्वकप से बड़ा है आईपीएल!

क्या विश्वकप से बड़ा है आईपीएल!

आईपीएल के 51 दिन, खिलाड़ी होंगे थककर चूर!

क्या विश्वकप से बड़ा है आईपीएल!

ग्वालियर/सचिन श्रीवास्तव। इन दिनों देश भर में लोकसभा चुनाव को लेकर अच्छी खासी बहस छिड़ी हुई है। हर किसी को एक प्रश्न सता रहा है कि वर्तमान प्रधानमंत्री मोदी वापसी करेंगे या फिर कांग्रेस के राहुल गांधी कोई चमत्कार करेंगे? यह तो भविष्य के गर्भ में छिपा हुआ है। लेकिन एक और बड़ा विषय है जो खेलों से जुड़ा हुआ है वह भी जनता के लिए चिंतन का विषय बना हुआ है। 2019 आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के लिए उलटी गिनती शुरू हो चुकी है। सभी टीमें इसकी तैयारी में जुट चुकी हैं और भारतीय टीम भी इस क्रिकेट के महाकुंभ के लिए कमर कसकर तैयार हो रही है। विश्व कप 30 मई से शुरू होना है और इसका फाइनल 14 जुलाई को खेला जाएगा। वहीं इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का अगला संस्करण 29 मार्च से शुरू होकर 19 मई तक चलेगा। तो ऐसे में भारतीय खिलाड़ी क्रिकेट के महाकुंभ यानि विश्वकप में अपना 100 प्रतिशत कैसे दे पाएंगे

यह प्रश्न लाजमी है। 51 दिनों तक चलने वाले आईपीएल में यदि किसी भारतीय धाकड़ खिलाड़ी को चोट लग जाती है या फिर कोई खिलाड़ी जो बेहतरीन फॉर्म में है लेकिन किसी कारणवश आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाता तो ऐसे में उस खिलाड़ी पर मानसिक प्रभाव पड़ेगा जिसका खामियाजा भारतीय टीम को उठाना पड़ सकता है।

हाल ही में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड दौरा भारतीय टीम के लिए अच्छा रहा था इन दोनों दौरों पर पूरी टीम में अच्छा तालमेल दिखाई दिया। आने वाली 24 फरवरी से 13 मार्च तक ऑस्ट्रेलियाई टीम भारतीय दौरे पर पांच एकदिवसीय और दो टी-20 मैच खेलेगी। जिससे भारतीय टीम के खिलाडिय़ों को एक और मौका है अपने प्रदर्शन को निखारने व अपने आप को साबित करने का।

कप्तान कोहली भी हैं चिंतित

ऐसा नहीं है कि इस और किसी का ध्यान नहीं है। कई क्रिकेट के दिग्गजों सहित कप्तान विराट कोहली भी इस पर चिंता व्यक्त कर चुके हैं। हैदराबाद में सीओए के साथ बैठक के दौरान कप्तान कोहली ने तेज गेंदबाजों विशेषकर जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार को पूरे आईपीएल से विश्राम देने का सुझाव दिया था ताकि वे विश्व कप के लिए तरोताजा रहें।

भारतीय कप्तान के इस प्रस्ताव का हालांकि किसी ने खास समर्थन नहीं किया और बोर्ड के अधिकारियों ने कहा कि फ्रेंचाइजी इस पर सहमत नहीं होंगी।

फ्रेंचाइजी मालिकों को दिखाना होगा देशप्रेम

अंतर्राष्ट्रीय मैचों के दौरान अक्सर देखा गया है कि आईपीएल फ्रेंचाइजी के मालिक भारतीय टीम का हौंसला बढ़ाने के लिए कई बार स्टेडियम में दिखाई दिए हैं और खिलाडिय़ों के अच्छे प्रदर्शन पर खुशी जाहिर करते हैं। लेकिन आज उनका यही देशप्रेम ही भारतीय टीम को इस बड़ी समस्या से निजात दिला सकता है। यदि वह आईपीएल के दौरान खिलाडिय़ों को फ्री हैंड छोड़ दें। जिससे खिलाड़ी अपनी थकान के हिसाब से मैच खेलने के लिए उपलब्ध रह सकें। खिलाडिय़ों पर प्रत्येक मैच खेलने का अतिरिक्त दबाव न रहे।

Updated : 2019-02-27T14:39:10+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top