Top
Home > खेल > क्रिकेट > ऑस्ट्रेलिया के साथ मैच में पृथ्वी से काफी उम्मीदें

ऑस्ट्रेलिया के साथ मैच में पृथ्वी से काफी उम्मीदें

कोलकाता/स्वदेश वेब डेस्क। सबसे कम उम्र (18) में शतक मारने वाले बल्लेबाज बने पृथ्वी शॉ को लेकर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने काफी उम्मीदें जताई है। शनिवार को राजधानी कोलकाता में एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे गांगुली ने कहा कि जिस शानदार तरीके से पृथ्वी ने अपने जीवन के पहले अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट मैच में प्रदर्शन किया उसे देखने के बाद दो महीने बाद ऑस्ट्रेलिया के साथ होने वाले मैच को लेकर उनसे उम्मीदें बढ़ गई हैं।

गांगुली ने कहा कि जिस आत्मविश्वास के साथ पृथ्वी ने पहला मैच खेला उसे देखने के बाद ऐसा लग ही नहीं रहा था कि वह पहली बार अंतर्राष्ट्रीय मैच खेल रहे हैं। अपनी शानदार बैटिंग की बदौलत उन्होंने गेंदबाजों को न केवल पानी पिलाया बल्कि किसी भी तरह की गेंदबाजी में अपनी बैटिंग को लगातार शानदार तरीके से आगे बढ़ाते रहें। यह एक मझे हुए खिलाड़ी की पहचान थी। गांगुली ने कहा कि जिंदगी का पहला टेस्ट मैच में पृथ्वी की ओर से किया गया यह शानदार प्रदर्शन उनके कैरियर के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होगा।

ज्ञात हो कि 18 साल के भारतीय बल्लेबाज़ पृथ्वी शॉ ने वेस्टइंडीज़ के खिलाफ गुरूवार से शुरू हुए पहले क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन अपने डेब्यू मैच में 134 रन की शतकीय पारी खेलकर इतिहास रच दिया और इसके साथ ही वह डेब्यू मैच में शतक लगाने वाले सबसे कम उम्र के भारतीय क्रिकेटर बन गए। मुंबई के युवा बल्लेबाज ने यहां सौराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में ओपनिंग करते हुए 56 गेंदों में अपने 50 रन और 99 गेंदों में 100 रन पूरे किए है।

Updated : 2018-10-07T02:38:13+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top