Top
Home > राज्य > अमित शाह ने चारभुजानाथ के दर्शन कर, राजस्थान गौरव यात्रा का किया शुभारंभ

अमित शाह ने चारभुजानाथ के दर्शन कर, राजस्थान गौरव यात्रा का किया शुभारंभ

अमित शाह ने चारभुजानाथ के दर्शन कर, राजस्थान गौरव यात्रा का किया शुभारंभ
X

उदयपुर। आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए जनता तक अपनी सीधी पहुँच बनाने के लिए बीजेपी राजस्थान गौरव यात्रा निकल रही है यात्रा का शुभारंभ भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे ने किया। यात्रा से पहले अमित शाह और सीएम राजे ने चारभुजानाथ मंदिर पहुँचकर पूजा अर्चना की और यात्रा को हरी झंडी दिखाई इस मोके पर कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और सीएम वसुंधरा राजे का जय घोष के साथ फूलमालाओं से स्वागत किया। यह यात्रा राजस्थान के हर जिले में पहुँचकर केंद्र सरकार, और राज्य सरकार द्वारा किये गए कार्यों और जनहितेषी योजनाओं की जानकारी जनता तक पहुंचाई।

यह गौरव यात्रा बीकानेर संभाग के चार जिलों के 23 विधानसभा क्षेत्रों में छह दिनों में 1043 किलोमीटर का सफर तय करेगी। इस दौरान संभाग में 20 आमसभा, 62 जगह यात्रा का स्वागत किया जाएगा। 2 सितम्बर को संभाग के चूरू जिले के जगविख्यात सालासर बालाजी के दर्शन कर यात्रा प्रारंभ होगी जो पूरे दिन में 141 किलोमीटर के दायरे में सुजानगढ़, रतनगढ़, चूरू व सरदारशहर में आमसभा व स्वागत कार्यक्रम होंगे। अगले दिन 3 सितम्बर को 154 किलोमीटर की गौरव यात्रा में तारानगर, राजगढ़-सादुलपुर, भादरा, 4 सितम्बर को भादरा, नोहर, पीलीबंगा, हनुमानगढ़ इलाकों में 123 किलोमीटर में आमसभाएं होंगी और गौरव यात्रा का स्वागत होगा।

बताया जाता है कि पांच सितम्बर को 103 किलोमीटर की गौरव यात्रा हनुमानगढ़, संगरिया, सादुलशहर और श्रीगंगानगर क्षेत्र में, 6 सितम्बर को श्रीगंगानगर, सादुलशहर, करणपुर, रायसिंहनगर, सूरतगढ़, अनूपगढ़ के 167 किलोमीटर दायरा, 7 सितम्बर को लूनकरनसर, खाजूवाला, श्रीकोलायत, नोखा, बीकानेर पूर्व व पश्चिम विधानसभा क्षेत्र की 355 किलोमीटर की गौरव यात्रा होगी। इसी दिन यात्रा का समापन होगी। जानकारी के अनुसार बीकानेर संभाग के समापन वाले दिन सीएम पांच जगह सभाएं करेंगी और हेलीकॉप्टर से ही एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाएंगी।

छह हजार किलोमीटर से लम्बी होगी यात्रा: उल्लेखनीय है कि इस यात्रा के तहत सीएम राजे छह हजार किलोमीटर से ज्यादा का रास्ता तय करेंगी। इस दौरान वह 135 जनसभाओं को संबोधित करेंगी। यह यात्रा 200 में से 165 विधानसभा क्षेत्रों से होकर गुजरेगी। यात्रा चालीस दिन की होगी और 18 दिन का विश्राम रहेगा। यात्रा का समापन 30 सितंबर को अजमेर की पुष्कर में होगा। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहेंगे।

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे इससे पहले दो बार ऐसी यात्राएं कर चुकी हैं। इससे पहले उन्होंने परिवर्तन यात्रा और सुराज संकल्प यात्रा निकाली थी। ये दोनों यात्राएं भी राजे ने चारभुजाजी के दर्शन के साथ ही शुरू की थी। यात्रा उदयपुर संभाग में राजे सात दिन, भरतपुर में चार दिन, जोधपुर में सात दिन, बीकानेर में छह दिन, कोटा में चार दिन, जयपुर में पांच दिन और अजमेर में सात दिन गुजारेंगी। इस दौरान प्रदेश भर में सीएम 135 आम सभाएं करेंगी। 371 जगह यात्रा के स्वागत कार्यक्रम होंगे।

राजे जयपुर संभाग के 50 विधानसभा क्षेत्र में से केवल 27 विधानसभा क्षेत्र कवर करेगी। यात्रा के बाद बची हुए 35 विधानसभा क्षेत्रों में चुनावों से पहले अन्य कार्यक्रम किए जाएंगे। जयपुर संभाग के 23 और अन्य छह संभाग के 12 विधानसभा क्षेत्रों में मुख्यमंत्री की यात्रा नहीं जाएगी। सीएम की यात्रा के बाद शेष 35 विधानसभा क्षेत्रों में पार्टी की ओर से बडे कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। विधानसभा चुनाव से पहले सीएम बचे हुए 35 विधानसभा क्षेत्रों में जाएंगी।

ये रहेगा रोडमैप

उदयपुर संभाग में 4 से 10 अगस्त

भरतपुर में 16,17,19,20 अगस्त

जोधपुर में 23 से 29 अगस्त

बीकानेर में 2 से 7 सितंबर

कोटा में 10 से 13 सितंबर

जयपुर में 16 से 20 सितंबर

अजमेर में 23,24 और 26 से 30 सितंबर

Updated : 2018-08-05T01:56:52+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top