Top
Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > नॉर्थ इंडिया शीतलहर की चपेट में, दिल्ली में न्यूनतम तापमान 1.7 डिग्री

नॉर्थ इंडिया शीतलहर की चपेट में, दिल्ली में न्यूनतम तापमान 1.7 डिग्री

- कोहरे के चलते 150 ट्रेनें लेट, चार फ्लाइट डायवर्ट - पर्वतीय क्षेत्रों में पारा माइनस 20 से 30 डिग्री तक लुढ़का

नॉर्थ इंडिया शीतलहर की चपेट में, दिल्ली में न्यूनतम तापमान 1.7 डिग्री

नई दिल्ली। दिल्ली समेत पूरा उत्तर भारत इन दिनों कड़ाके की सर्दी और शीतलहर की चपेट में है। दिल्ली में शनिवार को न्यूनतम तापमान गिरकर 1.7 डिग्री पर पहुंच गया। दिल्ली में दिन पर दिन लुढ़कते पारे के साथ कंपकंपाने वाली ठंड पड़ रही है। सुबह से ही कड़ाके की ठंड के साथ कोहरा छाया हुआ है। इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से लो विजिबिलिटी के कारण चार फ्लाइट को डायवर्ट किया गया।

मौसम विभाग के अनुसार आज सुबह 8.30 बजे दिल्ली के सफदरजंग एन्क्लेव में 2.4 डिग्री, पालम में 3.1 डिग्री, लोधी रोड में 1.7 डिग्री और आया नगर में 1.9 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। सुबह 6.10 बजे तक दिल्ली का न्यूनतम तापमान 2.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। 118 साल में ये दूसरा दिसम्बर है, जब दिल्ली में इतनी कड़ाके की ठंड पड़ रही है। दिल्ली में शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 4.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

150 ट्रेनें लेट और चार फ्लाइट डायवर्ट

दिल्ली-एनसीआर सहित उत्तर भारत में घने कोहरे के चलते इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से लो विजिबिलिटी के कारण चार फ्लाइट को डायवर्ट किया गया। कोहरे का असर सड़क और रेल यातायात पर भी पड़ रहा है। इसकी वजह से 150 ट्रेनें लेट चल रही हैं। दस ट्रेनों का वक्त बदला गया है। दिल्ली एयरपोर्ट के आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि फ्लाइट से सफर करने वाले लोग घर से निकलने से पहले अपनी एयरलाइंस से बात कर लें।

पहाड़ों में बर्फबारी से तापमान में भारी गिरावट

दिल्ली-एनसीआर सहित उत्तर भारत में घने कोहरे के चलते जहां रफ्तार धीमी हुई है वहीं पहाड़ों पर तापमान माइनस 20 से 30 डिग्री तक लुढ़क गया है। उत्तराखंड, कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में भीषण बर्फबारी हो रही है।

प्रदूषण का स्तर खराब श्रेणी में पहुंचा

ठंड की मार से दिल्ली में प्रदूषण का स्तर भी खराब श्रेणी में पहुंच गया है। सीपीसीबी के एयर बुलेटिन के अनुसार दिल्ली का एक्यूआई 373, फरीदाबाद का 392, गाजियाबाद का 384, ग्रेटर नोएडा का 382, गुरुग्राम का 292 और नोएडा का 396 रहा। 30 दिसम्बर तक प्रदूषण का स्तर इसी तरह रह सकता है। 31 दिसम्बर से हवा की रफ्तार तेज होने से इसमें कुछ कमी आने की उम्मीद है।

पिछले कुछ साल के दौरान दिसम्बर में न्यूनतम तापमान (डिग्री सेल्सियस में)

29 दिसम्बर, 2018 को 2.6, 24 दिसम्बर, 2017 को 6.3, 19 दिसम्बर, 2016 को 6.6, 20 दिसम्बर, 2015 को 5.0, 28 दिसम्बर, 2014 को 2.6, 30 दिसम्बर, 2013 को 2.4, 31 दिसम्बर, 2012 को 5.5, 25 दिसम्बर, 2011 को 2.9, 22 दिसम्बर, 2010 को 5.2, 26 दिसम्बर, 2009 को 5.2 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज हुआ।

Updated : 28 Dec 2019 5:18 AM GMT
Tags:    

Amit Senger

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top