Top
Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > उत्तर भारत में शीतलहर का प्रकोप जारी

उत्तर भारत में शीतलहर का प्रकोप जारी

उत्तर भारत में शीतलहर का प्रकोप जारी

नई दिल्ली। उत्तर भारत में शीतलहर का प्रकोप जारी है। दिल्ली में रोज धूप हो रही है, मगर तेज हवा की वजह से सर्दी अब भी जारी है। वहीं, कश्मीर, हिमचाल और उत्तराखंड के कई इलाकों में भारी बर्फबारी की वजह से दिल्ली-एनसीआर, उत्तर प्रदेश के इलाको में ठंड का सितम जारी है। पिछले 24 घंटों के दौरान, जम्मू व कश्मीर में भारी से काफी भारी बर्फबारी हुई जबकि लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी बर्फबारी देखी गई। मौसम वेबसाइट स्काईमेट के मुताबिक, अगले 24 घंटों के दौरान उत्तराखंड में कुछ स्थानों पर बारिश और बर्फबारी जारी रहेगी। जबकि उत्तरी मध्य प्रदेश, असम और अरुणाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश होने की संभावना है। वहीं जम्मू व कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में कल दोपहर या शाम के समय एक बार फिर से हल्की बारिश और बर्फबारी शुरू होने के आसार हैं।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मंगलवार को कोहरा रहा और आंशिक रूप से बादल छाए रहे। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के मुताबिक, दिल्ली के आसमान में बादल छाए रहेंगे, लेकिन बुधवार को बारिश होने की कोई संभावना नहीं है। दिल्ली में हवा चलने की वजह से ठंड थोड़ी सी बढ़ गई है। वहीं अगले 24 घंटों में जम्मू एवं कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में अलग-थलग बारिश या हिमपात की संभावना है। इसका असर दिल्ली और आस-पास के इलाकों पर भी पड़ सकता है।

पहाड़ों में हुई बर्फबारी का असर उत्तर प्रदेश पर भी पड़ा है। यहां भी कुछ इलाकों में हल्की बारिश व ओले गिरे है। जिस कारण गलन बढ़ी है। मौसम विभाग ने बुधवार को प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश की संभावना व्यक्त की है। मंगलवार को लखनऊ का न्यूनतम तापमान 9.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार, आज मौसम विभाग के करवट लेने के आसार है। ऐसे में लखनऊ समेत कई हिस्सों में बूंदाबांदी हो सकती है। बादलों की आवाजाही बरकार रहेगी। लेकिन बुधवार को पूरे प्रदेश में बारिश की संभावना है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक पाकिस्तान-जम्मू कश्मीर के पास बने विक्षोभ के चलते मौसम में यह बदलाव जारी है।

पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के अधिकांश हिस्सों में बारिश के कारण मंगलवार को शीतलहर बढ़ गई और यह बारिश जारी रहने की संभावना है। मौसम विभाग ने कहा कि बारिश के बाद घने कोहरे वाली स्थिति वापस आ जाएगी। पंजाब के पवित्र शहर अमृतसर में सबसे ज्यादा 27.6 मिलीमीटर बारिश हुई। यहां सोमवार के 1०.2 डिग्री सेल्सियस के मुकाबले मंगलवार को 3.7 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज हुआ। मौसम विभाग के अधिकारियों ने कहा कि अगले 24 घंटों में पंजाब और हरियाणा के कुछ हिस्सों में बारिश या बौछारें पड़ सकती हैं।

धूप नहीं निकलने और ठंडी हवाएं चलने के कारण मंगलवार को पटना सहित राज्य के कुछ हिस्से कड़ाके की ठंड की चपेट में हैं। मौसम विभाग के अनुसार, पटना और आसपास के मैदानी इलाकों में घने कोहरे के कारण धूप नहीं निकलने से दिन का तापमान बढ़ नहीं पा रहा है, जिससे अधिक ठंड पड़ रही है। विभाग ने कहा है कि आने वाले एक-दो दिनों में शीतलहर जारी रहेगी। इस दौरान ठंडी हवा चलने से गलन महसूस होगी तथा शाम होते ही कोहरा छा जाएगा, जो दिन चढ़ते बना रहेगा। दोपहर के बाद हल्की धूप निकलने की संभावना है।

हिमपात और बारिश के बाद मंगलवार को जम्मू क्षेत्र घने कोहरे की चादर में लिपटा रहा जिसके कारण जम्मू हवाई अड्डे पर विमानों का परिचालन प्रभावित हुआ। मौसम विभाग के अनुसार शहर में तापमान 5.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो पिछली रात से लगभग छह डिग्री सेल्सियस कम था। आज भी कश्मीर में हिमपात की संभावना है।

Updated : 15 Jan 2020 3:30 AM GMT
Tags:    

Amit Senger

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top