Top
Home > Lead Story > भारत अब न्यू इंडिया में हो रहा है तब्दील : प्रधानमंत्री मोदी

भारत अब न्यू इंडिया में हो रहा है तब्दील : प्रधानमंत्री मोदी

भारत अब न्यू इंडिया में हो रहा है तब्दील : प्रधानमंत्री मोदी
X

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को लखनऊ में कहा कि अपना भारत अब न्यू इंडिया में तब्दील हो रहा है। लोगों में गरीबों के प्रति संवेदना बढ़ रही है। सामर्थ्यवान सब्सिडी छोड़ रहे हैं। उन्होंने बताया कि उप्र के 46 हजार लोगों ने गरीबों के लिए अपने नाम आवंटित मकान छोड़ दिये। मोदी ने अपने संबोधन के दौरान विपक्षियों पर तंज भी कसा और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को उनकी कर्मभूमि में याद किया।

मोदी अपने दो दिवसीय लखनऊ दौरे के पहले दिन राजधानी स्थित इंदिरागांधी प्रतिष्ठान में आयोजित कार्यशाला के समापन समारोह को शनिवार शाम संबोधित कर रहे थे। यह दो दिवसीय कार्यशाला स्मार्ट सिटी, प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) और अमृत योजना के तीन वर्ष पूरे होने के मौके पर आयोजित की गई थी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि बदलते दौर में अब देश का हर नागरिक संवेदनशील हो गया है। मात्र एक अनुरोध पर एक करोड़ से अधिक लोगों ने गरीबों के घर में चूल्हा जलाने के लिए एलपीजी गैस की सब्सिडी छोड़ दी। इसी तरह बगैर किसी विज्ञापन या अनुरोध के 40 लाख से अधिक वरिष्ठ नागरिकों ने रेल टिकट की सब्सिडी छोड़ दी।

मोदी ने कहा कि यद्यपि सब्सिडी भारत की सियासत से जुड़ गयी है, लेकिन बदलते दौर का तकाजा देखिये कि अब उत्तर प्रदेश के लोग सब्सिडी वाले घर भी छोड़ रहे हैं। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा उन्हें जानकारी दी गयी है कि प्रदेश के 46 हजार लोगों ने सरकारी सहायता से बने अपने मकानों को गरीबों के लिए छोड़ दिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश को बदलने के लिए लोग अब स्वतः स्फूर्त से आगे आ रहे हैं।

राहुल और अखिलेश पर साधा निशाना

अपने करीब 45 मिनट के संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर भी निशाना साधा। मोदी ने कहा कि मेरे ऊपर भ्रष्टाचार में भागीदार होने का आरोप लगाया गया। मुझ पर इल्जाम है कि मैं चौकीदार नहीं हूं। तो मैं ये बताना चाहता हूं कि मैं हर उस चीज का भागीदार हूं, जिससे देश में तरक्की हो। मोदी ने कहा कि गरीबी की मार को मैंने झेला है, मैंने गरीबों के दुख को देखा है और इसी गरीबी ने ही मुझे ईमानदार बनाया है।

उप्र की पूर्ववर्ती अखिलेश सरकार पर तंज कसते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उस समय केन्द्र सरकार की योजनाओं के लिए बार-बार अनुरोध करना पड़ता था लेकिन पिछली सरकार लोगों के घर नहीं बनवा पाई, क्योंकि उनका सिंगल प्वाइंट प्रोग्राम अपने बंगले को सजाना और संवारना था।

अटल को भी किया याद

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को याद करते हुए मोदी ने कहा कि लखनऊ उनकी कर्मभूमि रही है। उन्होंने लखनऊ को सुधार की प्रयोगशाला बनाया। मोदी ने कहा कि अटल जी कहा करते थे कि बिना पुराने को संवारे, नया नहीं संवरेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि अटल जी की ये बात आज के हमारे अमृत यानि अटल मिशन फॉर रेजुवेनशन एंड अर्बन ट्रांसफॉर्मेशन और स्मार्ट सिटी मिशन के लिए प्रेरणा है। अटल की सोच के साथ ही देश के 100 शहरों को वहां की संस्कृति के साथ आधुनिक बनाया जा रहा है।

प्रधानमंत्री ने इस मौके पर आवास, पेयजल एवं बुनियादी सुविधाओं की 3397 करोड़ रुपये की 99 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास भी किया। मोदी ने इस अवसर कुछ लाभार्थियों को रिमोट के माध्यम से उनके मकानों की चाबियां भी सौंपी। चाबियां मिलते ही सबके चेहरे खिलखिला उठे। वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से इस कार्यक्रम के दौरान दिखाया भी जा रहा था। प्रधानमंत्री ने इस दौरान आवास योजना (शहरी) के तहत उत्तर प्रदेश के 60,426 लाभार्थियों के बैंक खाते में 606.85 करोड़ रुपये रिमोट का बटन दबाकर ऑनलाइन ट्रांसफर भी किया। कार्यक्रम के दौरान देश भर से आये महापौरों में से अच्छे कार्यों के लिए कुछ को सम्मानित भी किया गया। मोदी ने इस पर भी टिप्पणी की और कहा कि जिन शहरों को पुरस्कृत किया गया है, उनमें से सिर्फ दो के ही मेयर पुरुष हैं। बाकी सब की मेयर हमारी बहनें हैं। हमारी बहनों ने जो काम किया है, उसके लिए उनका अभिनंदन होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि सरकार वर्ष 2022 तक हर सिर पर छत देने का प्रयास कर रही है। इसी लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए, बीते तीन वर्षों में शहरी इलाकों में 54 लाख मकान स्वीकृत किए जा चुके हैं। सिर्फ शहरों में ही नहीं गांवों में भी एक करोड़ से अधिक मकान जनता को सौंपे जा चुके हैं।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि तीन वर्ष पूर्व प्रारम्भ हुए अमृत योजना, स्मार्ट सिटी योजना और प्रधानमंत्री आवास योजना के माध्यम से हम नियोजित और व्यवस्थित विकास की ओर आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने बताया कि उनकी सरकार ने 16 माह में इन तीनों महत्वपूर्ण योजनाओं को पूरी प्रतिबद्धता के साथ प्रदेश में लागू करने का काम किया गया है। योगी ने यह भी बताया कि गाजियाबाद व लखनऊ नगर निगम म्यूनिसिपल बांड जारी करने जा रहे हैं। इससे विकास को और गति मिलेगी। इससे पहले मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अंगवस्त्र भेंटकर उनका स्वागत किया।

लखनऊ के सांसद और केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने अपने संबोधन में स्मार्ट सिटी, अमृत योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) की तीसरी वर्षगांठ पर आयेजित कार्यक्रम को विकास पर्व की संज्ञा दी। उन्होंने कहा कि जो लोग विरोध करते हैं, वे भी यदि नजदीक आकर देखें तो पता चलेगा कि विकास किस गति से आगे बढ़ रहा है। केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि जो भारत अर्थव्यवस्था की लिस्ट में कभी 9वें स्थान पर था आज मोदी के नेतृत्व में वह टॉप 6 में पहुंच गया है।

पूर्व में केन्द्रीय शहरी विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप पुरी ने प्रधानमंत्री समेत सभी का स्वागत किया। उप्र के नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना ने आभार व्यक्त किया।

मंच पर पहुंचने से पहले प्रधानमंत्री ने यहां शहरी विकास मिशन से जुड़े महत्वपूर्ण कार्यक्रमों पर लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। इस प्रदर्शनी में लगाये गये मॉडल के जरिए पिछले तीन साल के शहरी विकास को दर्शाया गया है।

इससे पहले प्रधानमंत्री के चौधरी चरण सिंह अन्तरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पहुंचने पर राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनका स्वागत व अभिनंदन किया। इस अवसर पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह, दोनों उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य एवं डॉ. दिनेश शर्मा तथा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा0 महेंद्र नाथ पाण्डेय सहित अन्य ने भी प्रधानमंत्री का अभिनंदन किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को भी लखनऊ में रहेंगे और 60 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के उद्योगों की आधारशिला रखेंगे। इसके तहत प्रदेश में 81 परियोजनाओं की शुरुआत की जाएगी। कल के कार्यक्रम में देश के कई उद्योगपति भी मौजूद रहेंगे।

Updated : 2018-07-29T03:55:20+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top