Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > ग्वालियर में अभी नहीं होंगे वन्य जीवों के दीदार, नहीं खुलेंगे स्मारकों के ताले

ग्वालियर में अभी नहीं होंगे वन्य जीवों के दीदार, नहीं खुलेंगे स्मारकों के ताले

ग्वालियर में अभी नहीं होंगे वन्य जीवों के दीदार, नहीं खुलेंगे स्मारकों के ताले
X

ग्वालियर,न.सं.। कोरोना संक्रमण के चलते हुए लॉकडाउन के 75 दिन बाद अब धीरे-धीरे जीवन पटरी पर आने लगा है। बाजार खुल गए, रेस्टोरेंट व मॉल तक खुलने लगे। लेकिन अभी एक वर्ग ऐसा है जिसकी प्रतीक्षा लंबी होती जा रही है। सरकार की तरफ से अभी तक कोई गाइड-लाइन जारी न होने के कारण लोग खास तौर पर बच्चे और युवा वन्य जीवों का दीदार नहीं कर पा रहे हैं। लोगों को लगा था कि 8 जून से जब सब कुछ खुल रहा है तो चिडिय़ाघर भी खुलेंगे, लेकिन अभी ऐसा नहीं हुआ है। गांधी प्राणी उद्यान को खोलने को लेकर अभी दुविधा है। सरकार की ओर से कोई दिशा-निर्देश जारी नहीं हुआ है। चिडिय़ाघर प्रशासन भी सेंट्रल जू अथॉरिटी ऑफ इंडिया व प्रदेश सरकार के निर्देश का इंतजार कर रहा है। इस बीच चिडिय़ाघर प्रशासन के पास पर्यटकों के लगातार फोन आ रहे हैं यह जानने के लिए कि वो कब से वन्य जीवों का दीदार कर पाएंगे।

पर्यटन स्थल फिलहाल बंद, आदेश का इंतजार

भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) सोमवार से भले ही देशभर में 820 स्मारकों को खोल दिया गया हो। लेकिन ग्वालियर दुर्ग व गुजरी महल फिलहाल पर्यटकों के लिए बंद है। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के अधिकारियों ने बताया कि उनके पास अभी तक आदेश नहीं आए हैं। लेकिन जल्द आदेश आने की संभावना है। उधर नगर निगम के संग्राहलय खोलने के लिए भी राज्य शासन से कोई भी आदेश जारी नहीं हुआ है।

होटल और रेस्टोरेंट खुले पर नहीं लौटी चहल-पहल

लंबे इंतजार के बाद सोमवार को महानगर में होटल-रेस्टोरेंट खुले, लेकिन यहां भी गिनती के ही ग्राहक पहुंचे जो चाय-कॉफी के लिए आए। कोरोना वायरस के खौफ के चलते चहल-पहल नहीं लौटी है। महानगर के होटल और रेस्टोरेंट में दिनभर सन्नाटा पसरा हुआ देखा गया। कई लोगों ने फोन पर ही होटल-रेस्टोरेंट खुलने और कई अन्य प्रकार की जानकारी हासिल की। ज्यादातर ऑर्डर पार्सल के लिए मिले।

होटलों में सगाई के लिए होने लगी बुकिंग

बढ़ते कोरोना संकट के बीच होटल संचालकों ने लोगों के लिए अपने होटलों के द्वार खोल दिए हैं। साथ ही सगाई व अन्य समारोह के लिए बुकिंग भी शुरू कर दी है। सरकार की गाइड-लाइन के अनुसार होटल में सारी व्यवस्थाएं की गई हैं। रेस्टोरेंट में लोगों के बैठने की क्षमता घटाकर 50 कर दी गई है।

Updated : 2020-06-14T07:13:35+05:30

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top