Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > पश्चिमी विक्षोभ के एक्टिव होने से मौसम में घुली ठंडक, न्यूनतम तापमान फिर भी औसत से अधिक

पश्चिमी विक्षोभ के एक्टिव होने से मौसम में घुली ठंडक, न्यूनतम तापमान फिर भी औसत से अधिक

पश्चिमी विक्षोभ के एक्टिव होने से मौसम में घुली ठंडक, न्यूनतम तापमान फिर भी औसत से अधिक
X

ग्वालियर। दिसंबर के शुरूआती दिनों में अभी तेज सर्दी का अहसास नहीं हुआ है । तापमान में बहुत अधिक गिरावट देखने को भी नहीं मिली। लेकिन आज पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से दिन के समय थोड़ी ठंडक का अहसास हुआ। इसके अभी दो तीन दिन और ऐसे ही बने रहने के आसार हैं।

आम तौर पर ग्वालियर में दिसंबर के शुरुआत में तेज और बीच में कड़कड़ाती सर्दी पड़ती है लेकिन अभी दिसंबर के तीसरे दिन तापमापी में पारा बहुत नीचे जाता नहीं दिखाई दिया। आज का अधिकतम तापमान 28.0 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 10.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। और दोनों ही सामान्य से अधिक हैं अधिकतम तापमान 2.1 डिग्री और न्यूनतम 1.8 डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किये गए। 2017 की तुलना की जाए तो आज ही के दिन यानि तीन दिसंबर को अधिकतम तापमान 26.9 डिग्री सेल्सियस था और न्यूनतम तापमान 7.7 डिग्री सेल्सियस था यानि पिछले साल आज के दिन 3 दिसंबर को अधिक सर्दी थी। इसी तरह 2 दिसम्बर 2018 को अधिकतम तापमान 27.7 डिग्री दर्ज किया गया और न्यूनतम तापमान 10.2 डिग्री दर्ज किया गया जो 2017 की तुलना में अधिक है। 2017 में 2 दिसंबर को अधिकतम तापमान 27. 3 डिग्री और न्यूनतम तापमान 08.00 था. ऐसा ही हाल 1 दिसंबर का है। 1 दिसंबर 2018 को अधिकतम तापमान 27.7 डिग्री और न्यूनतम तापमान 11.0 दर्ज किया गया जबकि 1 दिसंबर 2017 को अधिकतम तापमान 29. 3 डिग्री और न्यूनतम तापमान 09.1 दर्ज किया गया था।

मौसम की बदली चाल के बारे में ग्वालियर मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम विज्ञानी एसके गोधा का कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ आज थोड़ा एक्टिव हुआ है पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी हुई है जिसका असर यहाँ देखने को मिल रहा है। उनका कहना है कि इस प्रभाव का अभी दो- तीन दिन तक और दिखाई देने के आसार हैं।

Updated : 2018-12-04T00:37:24+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top