Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > 56 इंच का सीना, तूने कर दिया कमाल

56 इंच का सीना, तूने कर दिया कमाल

56 इंच का सीना, तूने कर दिया कमाल
X

ग्वालियर। पुलवामा हमले को लेकर कल तक जिन लोगों की आंखों में गुस्सा था, शहीदों की शहादत को लेकर जिन लोगों की आंखें नम थी, उन आंखों में आज खुशियों का सैलाब उमड़ पड़ा। शहरवासी अपना सीना 56 इंच से अधिक चौड़ाकर सडक़ों पर चल रहे थे जैसे कोई बहुत बड़ी जंग जीती हो। कोई खुशी से नाच रहा था तो कोई हाथों में तिरंगा लिए भारत माता की जय जयकार कर खुशी से झूम रहा था। जी हां यह नजारा आज शहर की हर गली कूचे पर दिखाई दिया। लोगों को जैसे ही टीवी चैनलों के माध्यम से पता चला कि वायुसेना के बहादुर जांबांजो ने पाकिस्तान से पुलवामा का बदला ले लिया है तो वे खुशी से फूले नहीं समां रहे थे। लोगों की जुबां बस एक ही चर्चा थी आखिर हमने अपना बदला ले ही लिया। सुबह नींद से जब लोग जागे तब टीवी चैनलों पर एक ही खबर प्रसारित हो रही थी कि भारत ने बारह दिन पहले हुए पुलवामा हमले का बदला ले लिया। तीन सौ ज्यादा आतंकियों को वायुसेना के बहादुर जाबांजों ने ढेर कर दिया।


जिस समय पूरा शहर गहरी नींद में था, उस समय हमारी वायुसेना के लड़ाकू विमान 'मिराज' दुश्मनों के दांत खट्टे कर उनके आतंकवादी ठिकानों को मिट्टी में मिलाकर अपने सुरक्षित अड्डे पर आ चुके थे। हमले के बाद महाराजपुरा वायुसेना हवाई अड्डे पर मिराजों का मुंह पाकिस्तान की ओर करके रखा गया है, ताकि किसी भी समय वह उड़ान भरकर दुश्मनों पर गोले दाग सकें।

ग्वालियर महाराजपुरा वायुसेना हवाई अड्डा मंगलवार को उस समय चर्चाओं में आ गया, जब यहां पर रखे लड़ाकू विमान मिराज मंगलवार को तडक़े साढ़े तीन बजे के करीब पाकिस्तान में घुसकर आतंकवादियों के ठिकानों पर कहर बरपा कर अपनी जमीन पर सुरक्षित उतर चुके थे। जैश-ए-मोहम्मद व हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकी ठिकानों पर वायुसेना के फाइटर जहाज मिराजों ने पाकिस्तान में अस्सी किलो मीटर अंदर घुसकर बालाकोट में गोले गिराकर उनके छिपने के ठिकानों को तहस-नहस कर दिया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार महाराजपुरा वायुसेना हवाई अड्डे से तडक़े एक दर्जन मिराज तेज आवाज के साथ निकले थे, लेकिन शहर के बाशिंदे नींद में होने के कारण मिराजों की आवाजों को ज्यादा महसूस नहीं कर सके, लेकिन सुबह होने पर स्थिति साफ हो गई कि महाराजपुरा से मिराज पाकिस्तान में बमवारी करने के लिए उड़े थे। हालांकि किसी भी अधिकारी ने इसकी अधिकारिक पुष्टि नहीं की है, लेकिन हवाई हमला ग्वालियर से किया गया है। इसकी चर्चा राष्ट्रीय टीवी चैनलों पर दिन भर होती रही। सूत्रों की मानें तो ग्वालियर महाराजुपरा हवाई अड्डे पर लड़ाकू विमान मिराजों को पाकिस्तान की ओर मुंह करके खड़ा किया गया है। किसी भी समय मिराज ग्वालियर से पाकिस्तान पर आक्रमण करने के लिए तैयार हैं। सुरक्षा मानकों को ध्यान में रखते हुए उनकी संख्या और हैंगर की जानकारी का खुलासा नहीं किया जा सकता है। महाराजपुरा हवाई अड्डे के अंदर हलचल है और आसपास के गांवों में पेट्रोलिंग की जा रही है। किसी को भी हवाई अड्डे के आसपास जाने नहीं दिया जा रहा है। सुरक्षा के कड़े इंतजाम कर दिए गए हैं। वायुसेना और डीआरडी के जवान चप्पे-चप्पे पर तैनात हैं। पुलिस भी पेट्रोलिंग कर रही है।

पाकिस्तान के आतंकी ठिकानों पर बमवारी के बाद महाराजपुरा हवाई अड्डे से पाकिस्तान पर आक्रमण के लिए तैयार हैं मिराज


पाकिस्तान पर हमले के बाद ग्रामीणों में जोश

महाराजपुरा हवाई अड्डे के आसपास लक्ष्मणगढ़, गिरगांव, चकरायपुरा, जगदीशपुरा, सैथली, रिठौरा सहित मुरैना जिले के गांव टीकरी, शनिचरा आदि गांवों के ग्रामीण पाकिस्तान पर हमले के बाद प्रसन्न हैं। ग्रामीणों का कहना था कि पाकिस्तान को अब सबक सिखाने का समय आ गया है। हमारे बच्चे भी सेना में रहकर देश सेवा कर रहे हैं। पाकिस्तान से दो-दो हाथ हो जाना चाहिए। चंद दिनों में भारत धूल चटाकर नक्शे से पाकिस्तान का नामों निशान मिटा देगा।

पुलिस कर रही पेट्रोलिंग

महाराजपुरा थाना प्रभारी वर्मन का कहना है कि वायुसेना कर्मचारियों की कॉलोनियों में पेट्रोलिंग प्रारंभ कर दी गई है। किसी भी संदिग्ध को आसपास फटकने नहीं दिया जा रहा है। सुबह से ही हो रही पेट्रोलिंग लगातार जारी रहेगी। सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए स्थानीय प्रशासन भी महाराजपुरा क्षेत्र में नजरें रखे हुए है।

पिन पॉइंट एम्बरेसी

भारतीय वायुसेना ने मिराज लड़ाकू विमानों से पिन पॉइंट एम्बरेसी हमला किया था। मिराज ने जहां गोले गिराए थे, वह सटीक निशाने पर ही जाकर गिरे थे। अत्याधुनिक तकनीक से किए गए हमलों में तीन से दो मीटर के अंदर ही बम गिरता है, जिससे दुश्मनों के ठिकानों को नुकसान होता है।

क्या ग्वालियर से उड़े मिराजों ने की कवरिंग

ग्वालियर वायुसेना हवाई अड्डे से मिराजों ने तडक़े उड़ान भरी थी। इसकी पुष्टि तो हो रही है, लेकिन हमले कहां से किए गए? इसको लेकर तीनों सेनाओं के सेवानिवृत्त वरिष्ठ अधिकारियों की अलग-अलग राय है। सूत्र बताते हैं कि ग्वालियर ने उड़े मिराजों को संभवत: कवरिंग के लिए रखा गया होगा। दुश्मन के रडार से बचाने के लिए कवरिंग विमान रखे जाते हैं। ग्वालियर से पाकिस्तान के जिस स्थान पर हमला किया गया है, वहां की दूरी काफी है, इसलिए वरिष्ठ अधिकारी जोखिम नहीं लेना चाहेंगे। अम्बाला या भंठिडा से भी मिराजों से हमला किया गया हो तो बड़ी बात नहीं है।

रडार से बचने अरब खाड़ी से हुआ हमला?

बालाकोट में हमले से पहले राजनितिज्ञों और वायुसेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने हर उस संभावना पर विचार किया होगा, जिससे हमारा कोई नुकसान न हो। नौ सेना के वरिष्ठ अधिकारी का कहना था कि सकता है हमला रडार से बचने के लिए अरब खाड़ी का चक्कर लगाकर भी किया गया हो। हमले की जानकारी सुरक्षा के मद्देनजर गोपनीय रखी जाती है।

हमें चौकन्ना रहना होगा

सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट जनरल अशोक सिंह ने भारतीय वायुसेना के जांबाज पायलटों को बधाई देते हुए कहा कि उन्होंने कठिन ऑपरेशन को इतनी सफलता पूर्वक अंजाम दिया। हमें अभी चौकन्ना रहना होगा। आतंकवादी कभी भी और किसी भी जगह हमला कर सकते हैं। सैन्य क्षेत्र के अलावा रिहायशी क्षेत्रों में आतंकवादी हमला करने से बाज नहीं आएंगे, इसलिए हमें चौकन्ना रहने की आवश्यकता है।

भारतीयों के लिए गौरव की बात: पलवार

नौ सेना से सेवानिवृत्त कैप्टन ए.के.एस. पलवार ने कहा कि भारतीय वायुसेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक भारतीय के लिए गौरव की बात है। उन्होंने कहा कि आतंकवादियों और उनके आकाओं को पुलवामा हमले की सजा मिल गई है। आज वायुसेना ने उनके ठिकानों को नष्ट कर पाकिस्तान को सबक सिखा दिया है। हम तीनों सेनाओं को सलाम करते हैं। घर में घुसकर आतंकवादियों को सबक सिखाया है। इस हमले से यह साफ हो गया है कि अब यह 125 करोड़ देशवासियों का नया भारत है। हमारी एकजुटता और ताकत को कोई भी देश या संगठन नजर अंदाज नहीं कर सकता।

शहरवासियों ने दिया संदेश

'भारत द्वारा पाकिस्तान पर किए गए अभूतपूर्व हमले से हमारे देश के शहीद हुए जवानों को आत्म शांति मिलेगी। इस हमले से आतंकवादियों के हौंसले परास्त हो गए हैं। सरकार के इस निर्णय पर मुझे बहुत गर्व है।'

सृष्टि शिवहरे, युवा

'भारत सरकार ने आतंकवादियों के ठिकानों पर हमला करके अपना बदला ले लिया है। वायुसेना के इस अद्भुद साहस को देखकर आतंकवादी किसी भी नापाक हरकत करने की सोच भी नहीं सकेंगे। आज हमारा देश एक मजबूत हाथों में है।'

मयंक माहौर, युवा

'यह बेहद ही खुशी की बात है। भारत ने आतंकवादियों को सबक सिखा दिया है। इस घटना से आतंकवाद पर विराम लगेगा। मोदी सरकार ने बहुत सोच समझकर और अच्छा कदम उठाया है।'

श्रीमती शांता बनर्जी, उद्यमी

ईंट का जवाब पत्थर से दिया

मंगलवार को सुबह जब मैं सोकर उठी तो भारत द्वारा पाक पर की गई एयर सर्जिकल स्ट्राइक की खबर सुनकर लगा कि पाक द्वारा पिछले दिनों की गई हरकत का भारत ने ईंट का जवाब पत्थर से देकर दुश्मन को यह चेता दिया है कि अब फिर ऐसा किया तो इससे बुरा हाल करेंगे।

रीनारानी जाट, शिक्षिका

शहीद जवानों को सच्ची श्रद्धांजलि

पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकी घटना में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों को यह सच्ची श्रद्धांजलि है। भारत की वायुसेना ने पाक सीमा में जाकर आतंकियों के ठिकानो को नष्ट कर यह जता दिया है कि देश पर बुरी नजर डालने वालों का यही हाल करेंगे।

सौम्या श्रीवास्तव, छात्रा

ऐसा सबक सिखाओ, आने वाली पीढिय़ां याद रखें

पड़ोसी देश की कायराना हरकत का मुंहतोड़ जवाब देकर सेना ने यह जता दिया है कि भारत पहले समझाता है, नहीं माने तो सबक सिखाने में देर नहीं करता। अभी तो आतंकियों को जहन्नुम में पहुंचाया है। अगर पाक फिर ऐसी हरकत करे तो सेना उसे ऐसा सबक सिखाए कि आने वाली पीढिय़ों को याद रहे। हम किसी से कम नहीं हैं। भारत ने इस बात का भी ध्यान रखा है कि अंतर्राष्ट्रीय विधि का उल्लंघन न हो।

डॉ. गुंजन सिंघल, विधि विशेषज्ञ

हमें नाज है अपनी सेना पर

भारत की सेना ने दुश्मन देश को यह तो मात्र ट्रेलर दिखाया है। अगर फिर भी पाक अपनी हरकतों से बाज नहीं आए तो सेना उसे उसके ही घर में घुसकर सबक सिखाए। मंगलवार को हमारी वायुसेना ने जो किया, उससे हमें अपनी सेना पर नाज है।

संध्या तोमर

अब मोमबत्ती नहीं, दीपक जलाएंगे


भारतीय सेना के पराक्रम पर गौरवान्वित महसूस करते हुए वीरांगना लक्ष्मीबाई स्मारक समिति द्वारा लक्ष्मीबाई समाधि स्थल पर दीप प्रज्जवलन कार्यक्रम का आयोजन कर दीपोत्सव मनाया गया।

महाराज बाड़े पर की आतिशबाजी


मंगलवार को हिन्दू जागरण मंच ने पाकिस्तान पर हुई कार्रवाई के बाद महाराज बाड़े पर आतिशबाजी के साथ मिष्ठान वितरण कर सभी को बधाई देते हुए सैनिकों को उनके पराक्रम के लिए बधाई दी। इस दौरान भारत माता के गगनभेदी नारों से महाराज बाड़ा गूंज उठा।

मंगलवार को भाजपा जन कल्याण प्रकोष्ठ ने मिष्ठान वितरित कर भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद दिया।

युवा अधिवक्ता संघ जिला ग्वालियर के नेतृत्व में अभिभाषकों द्वारा जिला न्यायालय परिसर के बाहर आतिशबाजी करके मिष्ठान वितरण किया गया।

कारगिल शहीद सरमन सिंह खेल एवं शिक्षा प्रसार संस्था ने कहा कि भारतीय वायुसेना ने पुलवामा अटैक का पाकिस्तान से बदला ले लिया है। इसकी खुशी में संस्था द्वारा फूलबाग चौराहे पर तिरंगा फहराते हुए मिष्ठान वितरण किया गया।

हमारी सेनाओं का मनोबल बहुत ऊंचा है: शर्मा

सेवानिवृत्त मेजर जनरल आर.के. शर्मा ने कहा कि आज बहुत खुशी का दिन है। सन् 1971 के बाद आज पहली बार हमारे राजनितिज्ञों ने दृढ़ इच्छा शक्ति दिखाई है। हमारी सेनाएं तो हमेशा तैयार रहती हैं। इंदिरा गांधी के बाद मोदी जी ने साहस दिखाया है।

मोदी हैं तो सब मुमकिन है: मध्य क्षेत्रीय उद्योग एवं व्यापार मण्डल के अध्यक्ष अशोक बांदिल ने कहा है कि भारत का राजनैतिक नेतृत्व एवं वायुसेना बधाई की पात्र है। उन्होंने कहा कि जब तक भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हैं, तब तक इस प्रकार की कार्रवाई मुमकिन है।

सनातन धर्म मंदिर में बांटे लड्डू: भारतीय वायु सेना द्वारा पुलवामा घटना का बदला लेते हुए पाक आतंकवादियों पर किए गए हमले की खुशी में सनातन धर्म मंदिर में सत्येन्द्र कुमार अग्रवाल सिघंल, डॉ. कैलाश नारायण गर्ग, संजय सिंघल, घनश्यामदास रोहिरा, हरचरण लाल शर्मा आदि ने लड्डू बांटकर जश्न मनाया।


Updated : 2019-02-27T20:29:38+05:30

Naveen

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Next Story
Share it
Top