Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > मंत्री लाखन सिंह के स्वागत में स्टेशन पर कार्यकर्ताओं का हंगामा

मंत्री लाखन सिंह के स्वागत में स्टेशन पर कार्यकर्ताओं का हंगामा

कई यात्रियों की ट्रेन छूटी, जेब कटी, स्वागत के लिए उमड़े कार्यकर्ता, लाखन सिंह ने फूलबाग गुरूद्वारे पर मत्था टेका, कांग्रेस कार्यालय गए, नदी गेट पर माधव राव सिंधिया की प्रतिमा पर किया माल्यार्पण

ग्वालियर/स्वदेश वेब डेस्क। ग्वालियर जिले से कमलनाथ मंत्रिमंडल में शामिल किये गए पशुपालन मंत्री लाखन सिंह आज मिलेनियम एक्सप्रेस से ग्वालियर आये। उनके स्वागत के लिए रेलवे स्टेशन पर पहुंचे कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया और जमकर हुड़दंग मचाया । स्टेशन के बाहर और अंदर कार्यकर्ताओं की भीड़ इतनी अधिक हो गई थी जिसे नियंत्रित करना सुरक्षाकर्मियों के लिए मुश्किल हो रहा था। कार्यकर्ताओं ने रेलिंग तोड़ दी। लगभग दो घंटे तक स्टेशन परिसर में जाम की स्थिति बनी रही। जिसके चलते वहां अफरा तफरी के हालात बन गए। नतीजा ये हुआ कि बहुत से यात्रियों की ट्रेन ही छूट गई। इसी बीच मौके का फायदा उठाकर बदमाशों ने कई यात्रियों की जेब पर भी हाथ साफ कर दिया।

रेलवे स्टेशन से लाखन सिंह का रोड शो शुरू हुआ जो धीरे धीरे आगे बढ़ता रहा। उनकी गाड़ी के आगे और पीछे कई गाड़ियां चल रहीं थी। रास्ते में कई जगह स्वागत की तैयारियां की गई थी और लाखन सिंह गाड़ी से नीचे उतरकर मंच पर स्वागत करवाने के लिए उतर रहे थे। फूलबाग गुरूद्वारे के बाहर सिख समाज के लोगों ने उनका जोरदार स्वागत किया और गुरूद्वारे के अंदर ले जा कर शॉल पहनाई। लाखन सिंह ने गुरूद्वारे पर मत्था टेका उसके बाद वे कांग्रेस कार्यालय गए जहाँ उन्होंने स्वर्गीय माधव राव सिंधिया की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। यहाँ से लाखन सिंह नदी गेट पहुंचे जहाँ कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया, मंत्री लाखन सिंह ने नदी गेट स्थित स्वर्गीय माधव राव सिंधिया की आदमकद प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की उसके बाद जयेन्द्रगंज के रास्ते शहर के मुख्य मार्गों से होते हुए लक्ष्मीगंज स्थित अपने निवास पर पहुंचे जिसके बाद वे ग्राम पारा एवं माँ कैलादेवी के दर्शनों के लिए निकल गए।

मंत्री के स्वागत ने बढ़ाई शहरवासियों की मुश्किल

लाखन सिंह के रोड शो में उनकी गाड़ी के आगे और पीछे कई गाड़ियां चल रहीं थीं, जिसके कारण जाम के हालात बन रहे थे स्टेशन से लेकर लक्ष्मीगंज तक हर चौराहे पर जाम लगा रहा। पुलिस भी बहुत ज्यादा एक्शन मोड में दिखाई नहीं दी । उसका ध्यान जाम खुलवाने से ज्यादा ट्रेफिक को डायवर्ट करने में था, स्वागत में उत्साहित दो युवा बुलट से पटाखों की आवाज निकाल कर लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींच रहे थे लेकिन काफिले के साथ चल रहे किसी भी पुलिस अधिकारी या कर्मचारी ने इन युवाओं को नहीं रोका ।

Updated : 31 Dec 2018 11:24 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top