Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > ग्वालियर के दिव्यांग तैराक सत्येंद्र ने 45 किमी लंबा कैटलीना चैनल तैरकर किया पार

ग्वालियर के दिव्यांग तैराक सत्येंद्र ने 45 किमी लंबा कैटलीना चैनल तैरकर किया पार

एशिया के पहले दिव्यांग तैराक बने

ग्वालियर के दिव्यांग तैराक सत्येंद्र ने 45 किमी लंबा कैटलीना चैनल तैरकर किया पार
X

ग्वालियर। ग्वालियर के दिव्यांग सत्येंद्र सिंह लोहिया ने अमेरिका में 42 किलोमीटर लंबे कैटलीना चैनल को तैरकर पार करके नया इतिहास रच दिया है। ऐसा करने के बाद सत्येंद्र एशिया के पहले ऐसे दिव्यांग तैराक बन गए हैं, जिन्होंने कैटलीना चैनल को पार किया है। सत्येंद्र के इस मिशन में उनके साथ भारत के विभिन्न राज्यों के पांच लोग और भी मौजूद थे। जिनमें छत्तीसगढ़ की एक बेटी भी शामिल थी। सत्येंद्र ने सोमवार को रात 12 बजे से कैटरीना चैनल में तैराकी शुरू की थी, इस तरह से लगभग 11 घंटे ४६ मिनट में उनकी टीम ने इस सफर को पूरा किया। किसी भी व्यक्ति के लिए कैटलीना चैनल में लगातार तैराकी करना बहुत ही मुश्किल का काम होता है, क्योंकि एक तो इसका तापमान लगभग 12 डिग्री के आस पास होता है इसके साथ ही कैटलीना चैनल में शार्क मछलियां भी पाई जाती हैं, जो कि बेहद खतरनाक होती हैं और उनके चलते हमेशा मन में जान जाने का डर बना रहता है। बता दें यह पहली बार नहीं है जब सत्येंद्र ने ऐसा करके दिखाया है, इससे पहले भी सत्येंद्र इंग्लिश चैनल पार कर चुके हैं। इंग्लिश चैनल पार करने की उपलब्धि के बाद मध्य प्रदेश सरकार ने उन्हें विक्रम अवार्ड से नवाजा था। सत्येंद्र की इस नई सफलता से उनके परिवार वाले बेहद खुश हैं।

जानकारी के मुताबिक सत्येंद्र इस तैराकी के लिए ६ अगस्त को ग्वालियर से रवाना हुए थे वे अब 25 अगस्त को वापस आएंगे। उनके भाई संदीप ने बताया कि सत्येंद्र ने यह उपलब्धि तैराकी कोच रोहन मोरे, बी.के. डबास एवं जनसंपर्क आयुक्त पी. नरहरि की देखरेख में हासिल की। उसके परिवार में माता-पिता के अलावा दिन भाई हैं। वह श्रीनगर कॉलोनी थाटीपुर में रहते हैं। उनके पिता मधुर फायनेंस कंपनी में गार्ड हैं।

Updated : 21 Aug 2019 7:45 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top