Top
Home > Lead Story > नवीन पटनायक के शासनकाल में ओडिशा में महिला हिंसा में बढ़ोतरी हुई

नवीन पटनायक के शासनकाल में ओडिशा में महिला हिंसा में बढ़ोतरी हुई

नवीन पटनायक के शासनकाल में ओडिशा में महिला हिंसा में बढ़ोतरी हुई
X

भुवनेश्वर/स्वदेश वेब डेस्क। एक दिवसीय ओडिशा दौरे पर आये भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह राज्य सरकार और मुख्यमंत्री नवीन पटनायक पर जम कर बरसे। उन्होंने कहा कि नवीन पटनायक ने अपने अब तक के शासनकाल में ओडिशा को विकास के बजाय महिला हिंसा में देश में अग्रणी राज्य बना दिया है। राज्य में निर्वाचित जनप्रतिनिधियों के बदले नौकरशाही शासन कर रही है। उन्हें यह बात ध्यान में रखनी चाहिए कि नवीन पटनायक का शासन चिरस्थायी नहीं है।

शाह पुरी में सोमवार को आयोजित भाजपा महिला मोर्चा के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने पटनायक सरकार को उखाड़ कर फेंकने का आह्वान किया और कहा कि राज्य में महिला विरोधी हिंसा में 39 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। छेड़खानी के मामले में ओडिशा एक नंबर, दहेज उत्पीड़न में देश में चार नंबर, सामूहिक दुष्कर्म के मामलों में ओडिशा पांच नंबर व तेजाब फैंकने के मामले में ओडिशा छह नंबर स्थान पर है। इस कारण महिलाओं ने नवीन सरकार को हटाने का मन बना लिया है। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना पूरे देश में लागू हो चुकी है। ओडिशा के मुख्यमंत्री पटनायक ने इस योजना में प्रदेश को इसलिए शामिल नहीं किया क्योंकि इससे नरेन्द्र मोदी को लोकप्रियता हासिल हो जाएगी। नवीन सरकार को राज्य के लोगों की चिंता नहीं है। केवल सरकार में रहना ही उनका (नवीन पटनायक) एक मात्र उद्देश्य है।

उन्होंने कहा कि शराब परिवारों को तबाह कर रहा है। भाजपा के सत्तारूढ़ होने के बाद जहरीली व नकली शराब बेचने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। गत कुछ सालों में भाजपा के 14 कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई है। कार्यकर्ताओं की हत्या कर भाजपा को चुप नहीं कराया जा सकता। मोदी सरकार ने महिलाओं के विकास के लिए काफी कुछ किया है। पूरे देश में जनधन बैंक खाता, मुद्रा ऋण, उज्वला योजना में सिलिंडर, मा को सम्मान के प्रतीक के रूप में शौचालय आदि रिकार्ड संख्या में किया गया हैं। मोदी सरकार राज्य को पर्याप्त धनराशि दे रही है, लेकिन इस राशि को जनकल्याण में खर्च करने में राज्य़ सरकार पूर्ण रूप से विफल रही हैं। मोदी सरकार देश को बनाने में लगी है जबकि कांग्रेस, बीजद समेत अन्य राजनीतिक दलों का मोदी हटाओ ही एक मात्र एजेंडा है।

कार्यक्रम में केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, जुएल ओराम, राष्ट्रीय महामंत्री अरुण सिंह, महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष विजया राहटकर व अन्य लोग भी उपस्थित थे।

Updated : 2018-09-25T02:56:56+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top