Top
Home > Lead Story > पंजाब: राजासांसी गांव में निरंकारी भवन में ब्लास्ट, तीन लोगों की मौत, 11 घायल, दिल्ली में अलर्ट

पंजाब: राजासांसी गांव में निरंकारी भवन में ब्लास्ट, तीन लोगों की मौत, 11 घायल, दिल्ली में अलर्ट

- अमृतसर के गांव अरदीवाल में हुई घटना, गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने अमरिंदर से ली रिपोर्ट

पंजाब: राजासांसी गांव में निरंकारी भवन में ब्लास्ट, तीन लोगों की मौत, 11 घायल, दिल्ली में अलर्ट
X

अमृतसर/स्वदेश वेब डेस्क। पंजाब के अमृतसर में रविवार को अज्ञात नौजवानों ने ग्रेनेड से हमला किया, जिसमें निरंकारी समुदाय के तीन व्यक्तियों की मौत हो गई जबकि 15 घायल हो गए। घायलों का नजदीकी अस्पताल में इलाज चल रहा है। निरंकारी सत्संग पर हमले की घटना के बाद पंजाब के सभी धार्मिक डेरों व सत्संग घरों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। घायलों में महिलाओं व बच्चों के अलावा अरदीवाल निरंकारी मिशन के प्रमुख भी शामिल हैं। पंजाब सरकार ने सभी मृत्कों को पांच-पांच लाख की सहायता राशि देने व घायलों का मुफ्त उपचार करवाने का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री कैप्टन अरविंदर सिंह भी सोमवार को घटना स्थल का दौरा करेंगे।

अमृतसर जिला के गांव अरदीवाल स्थित निरंकारी भवन में रविवार को सामान्य की भांति सत्संग चल रहा था। सत्संग भवन में करीब 200 लोग जुटे हुए थे। सुबह करीब 11.30 बजे जब सभी अनुयायी भजन-कीर्तन में लीन थे तभी मोटरसाइकिल सवार दो नौजवान वहां आए और उन्होंने गेट पर खड़ी सेवादार परमजीत कौर को रिवाल्वर दिखाकर वहां से भगा दिया। परमजीत कौर जब तक मुख्य पंडाल के मंच तक पहुंच पाती तब तक उक्त नौजवानों ने सत्संग भवन में घुसकर ग्रेनेड से हमला कर दिया। यह ग्रेनेड मुख्य मंच के निकट फटा, जिसमें तीन सेवादारों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 15 लोगों के घायल हो गए। इस हमले के बाद संत्संग भवन में अफरा-तफरी मच गई।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार हमलावरों ने अपने मुंह रूमाल से ढंके हुए थे और वह पल्सर मोटरसाइकिल पर सवार थे। प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो हमलावर घटना को अंजाम देकर गांव के लिंक रोड से होते हुए मजीठा की तरफ फरार हो गए। इस बीच घटनास्थल पर पहुंचे बार्डर रेंज के आईजी एसपीएस परमार ने इस बात की पुष्टि तो की कि यह हमला ग्रेनेड से हुआ है लेकिन इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी कि यह कोई आतंकी हमला है। पुलिस ने इस घटना में पाकिस्तानी आतंकी जाकिर मूसा का हाथ होने का संकेत मिलने से इनकार करते हुए कहा कि प्रत्यक्षदर्शियों के बयान दर्ज करने और एफएसएल की रिपोर्ट के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।

निरंकारी मिशन की अपील, बयानबाजी से बचें

निरंकारी मिशन द्वारा संगत के नाम जारी संदेश में कहा गया है कि वह किसी तरह की राजनीतिक बयानबाजी व नारेबाजी से गुरेज करें। निरंकारी मिशन के विंग ने अपने अनुयायियों से अपील की है कि हमें अपने गुरुओं पर भरोसा है। हमारा धर्म हमें सबर रखने की शिक्षा देता है। इसलिए घटना के बाद ऐसा कुछ न कहा जाए जिससे कोई विवाद बढ़े।

आईएसआई व कश्मीरी आतंकी संगठनों के शामिल होने से इनकार नहीं: अमरिंदर

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि इस हमले में आईएसआई आधारित खालिस्तानी या कश्मीरी आतंकवादी ग्रुपों की शमूलियत से इनकार नहीं किया जा सकता। हमलावरों के संदिग्ध ठिकानों पर छापे मारने के लिए पुलिस टीमों का गठन किया गया है और कई टीमें इस केस को सुलझाने के लिए हर पहलू से जांच कर रही है।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि उनकी सरकार की तरफ से जल्द ही मामले की तह तक जा कर दोषियों को काबू करके कानून के कटघरे में खड़ा किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्राथमिक जांच में अब तक हुए खुलासे के मुताबिक दो व्यक्ति जिनमें से एक की लंबी दाढ़ी थी, के चेहरे ढके हुए थे और उन्होंने पिस्तौल तानकर हाल में जबरन प्रवेश किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि चाहे कि राज्य को साल 2015-16 के दरमियान निशाना बनकार किये हमलों का सामना करना पड़ा परंतु पिछले लंबे समय से ऐसी हत्याओं के द्वारा शांति को भंग करने की यह पहली कोशिश की गई है। मुख्यमंत्री ने आगे बताया कि पिछले 18 महीनों में ऐसे 15 आतंकवादी गिरोहों को काबू किया गया है, जिनमें से कुछ में कश्मीरी आतंकवादियों का संबंध होने बारे भी संकेत मिले हैं जिसकी पुष्टि मकसूदां पुलिस थाने में ग्रेनेड हमले केस में और जालंधर से कश्मीरी विद्यार्थियों की गिरफ्तारी से होती है।

सुरक्षा चाक-चौबंद, अलर्ट जारी

अमृतसर हमले के बाद पंजाब के सीमावर्ती इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाते हुए प्रशासन को हाई अलर्ट पर रखा गया है। इसके तहत राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हाई अलर्ट जारी हो गया है और सुरक्षा कड़ी की गई है। जबकि आगामी दिनों में हरियाणा के समालखा में होने वाले निरंकारी समागम को लेकर हरियाणा सरकार ने भी सुरक्षा व्यवस्था को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए है। हमले को देखते हुए देशभर में सभी निरंकारी भवनों की भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। भारत पाक सीमा पर पंजाब पुलिस व बीएसएफ ने सीमावर्ती गांवों को सील कर दिया है।

उल्लेखनीय है कि चार दिन से पंजाब में हाई अलर्ट पर था। शुक्रवार को पाक आतंकी जाकिर मूसा के अमृतसर में होने का दावा किया गया था। भारत पाक सीमा पर पंजाब पुलिस व बीएसएफ ने सीमावर्ती गांवों को सील कर दिया है। बार्डर रेज के आईजी एसपीएस परमार ने मीडिया को इस बीच बताया कि यह आतंकी हमला भी हो सकता है। लेकिन पुष्टि से इनकार किया है। उन्होंने बताया कि जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। उधर दिल्ली में भी अलर्टजारी कर दिया गया है।

Updated : 2018-11-19T19:46:06+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top