Top
Home > Lead Story > उत्कृष्ट सांसदों का अनुकरण करें सदस्य : सभापति

उत्कृष्ट सांसदों का अनुकरण करें सदस्य : सभापति

उत्कृष्ट सांसदों का अनुकरण करें सदस्य : सभापति
X

नई दिल्ली। राज्यसभा के सभापति एम. वैंकेया नायडू ने सदन के सदस्यों से उत्कृष्ट सम्मान प्राप्त सांसदों की कार्यशैली और आचरण का अनुसरण करने की अपील की। साथ ही, उन्होंने मानसून सत्र में राज्यसभा की कार्यवाही के चलने पर खुशी जाहिर की है।

गुरुवार सुबह उच्च सदन की बैठक शुरू होने पर नायडू ने उत्कृष्ट सांसद सम्मान प्राप्त आजाद, पूर्व उपसभापति नजमा हेपतुल्ला, लोकसभा सदस्य हुकुमदेव नारायण यादव, दिनेश त्रिवेदी और भर्तृहरि महताब की कार्यशैली और आचरण का हवाला देते हुए सभी सदस्यों से इनका अनुसरण करने की अपील की। उन्होंने पिछले 2 सत्र में सदन की कार्यवाही के हंगामे की भेंट चढ़ने का जिक्र करते हुए मानसून सत्र के सुचारू संचालन को शुभ संकेत बताया। साथ ही, उत्कृष्ट सांसद सम्मान से नवाजे गए नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद और नेता सदन अरुण जेटली के सकारात्मक योगदान की सराहना की।

उल्लेखनीय है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बुधवार को एक समारोह में गुलाम नबी आजाद, नजमा हेपतुल्ला, हुकुमदेव नारायण यादव, दिनेश त्रिवेदी और भर्तृहरि महताब को उत्कृष्ट सांसद सम्मान से सम्मानित किया था। नायडू ने कहा कि उच्च सदन के एक मौजूदा सदस्य और एक पूर्व सदस्य को यह सम्मान मिलना समूचे सदन के लिए गर्व का विषय है। उन्होंने सभी सदस्यों खासकर नए सदस्यों से आजाद सहित अन्य सम्मानित सांसदों के आचरण को अनुकरणीय मानकर संसदीय मर्यादाओं और सामान्य शिष्टाचार का पालन करने का आह्वान किया।

सभापति ने कहा कि सदन के संचालन में जब कभी वह कठिनाई महसूस करते हैं तो हर बार नेता प्रतिपक्ष और नेता सदन उनके लिए मददगार साबित होते हैं। मानसून सत्र के शुरू होने से पहले 17 जुलाई को एक बैठक में आजाद ने सदन में बढ़ते हंगामे के कारण विधायिका के सदस्यों की प्रतिष्ठा जनता की नजर में कम होने पर चिंता जताई थी। नायडू ने कहा कि मुझे खुशी है कि इस सत्र की बेहतर शुरुआत हुई और सदन की कार्यवाही सुचारू रूप से चल रही है।

Updated : 2018-08-03T02:52:14+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top