Top
Home > Lead Story > सेना के युद्धाभ्यास से थर्राया रेगिस्तान, बमबारी से दुश्मन के ठिकानों को किया तहस-नहस

सेना के युद्धाभ्यास से थर्राया रेगिस्तान, बमबारी से दुश्मन के ठिकानों को किया तहस-नहस

सेना के युद्धाभ्यास से थर्राया रेगिस्तान, बमबारी से दुश्मन के ठिकानों को किया तहस-नहस

जयपुर। राजस्थान के सीमांत जैसलमेर जिले में सेना की सुदर्शन चक्र वाहिनी एवं वायुसेना का संयुक्त युद्धाभ्यास से रेगिस्तान थर्रा उठा और इस दौरान दुश्मन के काल्पनिक ठिकानों को अचूक बमबारी कर नष्ट कर दिया गया। पोकरण फील्ड फायरिंग रेंज में रविवार को शुरू हुए दो दिवसीय युद्धाभ्यास में थल सेना एवं वायुसेना अपनी मारक क्षमता का प्रदर्शन कर रही है।

सोमवार (21 अक्टूबर) को युद्धाभ्यास के दौरान पोकरण फील्ड फायरिंग रेंज धमाकों से गूंज उठी और सैनिकों ने दुश्मन के काल्पनिक ठिकानों पर अचूक बमबारी कर उन्हें नेस्तनाबूद कर दिया। इस दौरान के-9 वज्र गन ने अचूक निशाने साधे तथा अटैकिंग हेलीकॉप्टर एवं वायुसेना के विमानों ने जबरदस्त बमबारी करते हुए इन ठिकानों को तहस-नहस कर दिया। धमाकों के कारण पूरी रेंज में रेत का गुबार छा गया। रॉकेट लॉन्चर से शत्रु के छद्म ठिकानों एवं आतंकवादी ठिकानों आदि को नष्ट करने का अभ्यास किया गया।

थल एवं वायुसेना की मारक क्षमता को मजबूत और बेहतर बनाने के लिए सेना की दक्षिणी कमान के हजारों सैनिक अभ्यास कर रहे हैं। वायुसेना द्वारा कम समय में कैसे दुश्मन को नेस्तनाबूद किया जाए, इस पर थल सेना का साथ लेकर विजय प्राप्त करने का प्रदर्शन किया जा रहा है। इसमें सेना की आर्म्ड, मेकेनाइज्ड एवं इंफेंट्री बिग्रेड की यूनिट्स शामिल है। खासकर दक्षिणी कमान की सुदर्शन चक्र कॉप्स इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। मौके पर सेना के कई उच्चाधिकारी भी मौजूद थे।

Updated : 21 Oct 2019 7:45 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top