Top
Home > विदेश > Covid-19 से लड़ने भारत को 100 करोड़ डॉलर देगा वर्ल्ड बैंक, स्क्रीनिंग से लेकर आइसोलेशन वार्ड बनाने पर होगा खर्च

Covid-19 से लड़ने भारत को 100 करोड़ डॉलर देगा वर्ल्ड बैंक, स्क्रीनिंग से लेकर आइसोलेशन वार्ड बनाने पर होगा खर्च

Covid-19 से लड़ने भारत को 100 करोड़ डॉलर देगा वर्ल्ड बैंक, स्क्रीनिंग से लेकर आइसोलेशन वार्ड बनाने पर होगा खर्च

नई दिल्ली। कोरोना वायरस से लड़ रहे भारत को वर्ल्ड बैंक की तरफ से सौ करोड़ डॉलर यानि 76 अरब रुपये की आपातकालान वित्तीय सहायता दी जाएगी। गुरुवार को इसकी मंजूरी दी गई। इस पैसे से भारत को बेहतर स्क्रीनिंग, कंटेक्ट ट्रेसिंग, लेबोरेट्री डायग्नोस्टिक्स, सुरक्षात्मक उपकरणों की खरीद और नए आइसोलेशन वार्ड्स को बनाने में मदद मिल पाएगी।

विश्व बैंक की सहायता परियोजनाओं के 1.9 अरब डॉलर के पहले सेट में 25 देशों की मदद की जाएगी और 40 से अधिक देशों में त्वरित गति से नये अभियान आगे बढ़ाये जा रहे हैं। आपातकालीन वित्तीय सहायता का सबसे बड़ा हिस्सा भारत को दिया जाएगा जो एक अरब डॉलर का होगा।

विश्व बैंक के कार्यकारी निदेशकों के मंडल ने दुनियाभर के विकासशील देशों के लिए आपात सहायता के पहले सेट को मंजूरी दी जिसके बाद विश्व बैंक ने कहा, ''भारत में एक अरब डॉलर की आपातकालीन वित्तीय सहायता से बेहतर स्क्रीनिंग, संपर्कों का पता लगाने, प्रयोगशाला जांच, व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण खरीदने और नये पृथक वार्ड बनाने में मदद मिलेगी।

दक्षिण एशिया में विश्व बैंक ने पाकिस्तान के लिए 20 करोड़ डॉलर, अफगानिस्तान के लिए 10 करोड़ डॉलर, मालदीव के लिए 73 लाख डॉलर और श्रीलंका के लिए 12.86 करोड़ डॉलर की सहायता को मंजूरी दी है।

विश्व बैंक ने यह भी कहा कि उसने वैश्विक कोरोना वायरस महामारी के प्रभाव से निपटने में देशों की मदद करने के लिए 15 महीने के लिहाज से 160 अरब डॉलर की आपातकालीन सहायता जारी करने की योजना को मंजूरी दी।

भारत में भी कोरोना वायरस के मामले लॉकडाउन के बावजूद नई दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में तबलीगी जमात के मरकज में आयोजित एक धार्मिक समारोह के चलते तेजी से फैला है।

कोरोना वायरस का संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है। देश में COVID-19 के पॉजिटिव केस का आंकड़ा गुरुवार (2 अप्रैल) को 2000 के पार पहुंच गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, अभी तक देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 2069 हो गई है। वहीं, अब तक इस वैश्विक महामारी से 53 लोग मारे जा चुके हैं। कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या में 400 से अधिक मामले निजामुद्दीन मरकज के तबलीगी जमात के लोगों का है।

कोरोना वायरस के मामलों में इजाफे के लिहाज से एक दिन में 235 नए मामले दर्ज किए गए। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, 151 लोग अबत तक इस वायरस के संक्रमण से ठीक हो चुके हैं।

Updated : 3 April 2020 5:09 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top