Top
Home > विदेश > ट्रम्प ने की फेड रिजर्व से ब्याज दर में कटौती की मांग

ट्रम्प ने की फेड रिजर्व से ब्याज दर में कटौती की मांग

ट्रम्प ने की फेड रिजर्व से ब्याज दर में कटौती की मांग

वाशिंगटन। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सेंट्रल बैंक 'फ़ेड रिज़र्व' से ब्याज दर में कटौती करने की मांग की है ताकि देश के आर्थिक विकास को पंख लगने में मदद मिल सके। ट्रम्प ने शुक्रवार को क्लेक्सिया कैलिफ़ोर्निया में स्थित दक्षिण पश्चिम बार्डर पर रवाना होने से पूर्व पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि उन्हीं की ओर से नामित फ़ेड रिजर्व के चेयरमैन जेरोम पावेल ने पिछले साल चार बार चौथाई-चौथाई ब्याज दर बढ़ाकर आर्थिक विकास दर को रुकावट डालने की कोशिश की है, जिसे कदापि स्वीकार नहीं किया जा सकता।

ट्रम्प ने फ़ेड रिज़र्व के बारे में उस समय यह कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है जब इस मार्च के महीने में एक लाख 96 हज़ार नए रोज़गार का सृजन किया गया है। साल के प्रारंभ में बजट में कारपोरेट जगत सहित मध्य वर्ग को डेढ़ ख़रब डालर के करों की कटौती का लाभ दिया गया है। उनका कहना है कि इकाेनाॅमी सुदृढ़ स्थिति में है, इसे पंख लगाए जा सकते थे, बशर्ते ब्याज दर, ख़ासकर अंतिम तिमाही में बढ़ाए जाने पर रोक लगाई जाती।

डेमोक्रेटिक पार्टी ने ट्रम्प के इस वक्तव्य की कड़ी निंदा करते हुए इसे फ़ेड रिज़र्व की स्वायत्तता पर हमला बताया है। एक वक्तव्य में कहा गया है कि यह सरासर फ़ेड रिज़र्व के कार्यों के प्रति अनादर है। इसके विपरीत व्हाइट हाउस में आर्थिक सलाहकार लैरी कुडलोव ने कहा है कि इसे फ़ेड रिज़र्व के प्रति अनादर अथवा स्वायत्तता पर हमला कहा जाना अनुचित है। इस समय विश्व की स्थिति, ख़ासकर यूरोप अपनी समस्याओं से उलझ रहा है और जर्मनी में आर्थिक विकास अवरुद्ध है। चीन के साथ व्यापार युद्ध से भी उबर नहीं पाए हैं। ऐसे में ब्याज दर बढ़ाया जाना तर्क संगत नहीं है।

Updated : 6 April 2019 5:51 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top