Top
Home > देश > लोकसभा में महिलाओं के मुद्दे पर सोमैया से भिड़े तृणमूल कांग्रेस के सदस्य

लोकसभा में महिलाओं के मुद्दे पर सोमैया से भिड़े तृणमूल कांग्रेस के सदस्य

लोकसभा में महिलाओं के मुद्दे पर सोमैया से भिड़े तृणमूल कांग्रेस के सदस्य

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में चार महिलाओं को भीड़ द्वारा पीटे जाने और दो को निर्वस्त्र किए जाने की घटना को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और तृणमूल कांग्रेस (तृमूकां) के सदस्यों के बीच तीखी बहस हुई जिस कारण लोकसभा अध्यक्ष को सदन की बैठक स्थगित करनी पड़ी।

बुधवार को लोकसभा में शून्यकाल की कार्यवाही के दौरान भाजपा सदस्य किरीट सोमैया ने पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में चार महिलाओं के साथ भीड़ द्वारा मारपीट का मामला उठाया। उन्होंने कहा कि चार महिलाओं को भीड़ द्वारा पीटा गया और उसमें से दो को निर्वस्त्र किया गया। उन्होंने कहा कि पुलिस ने घटना में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की बजाय चारों महिलाओं को गिरफ्तार किया।

सोमैया ने पश्चिम बंगाल के अलावा केरल की एक घटना का जिक्र करते हुए कहा कि वहां 32 वर्षीय एक युवक को मुर्गी चोर बताकर पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी गई। इसके अलावा एक गर्भवती महिला के साथ भी मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया।

भाजपा सदस्य ने कहा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी खुद महिला हैं| बावजूद उनके शासन में महिलाओं के साथ अत्याचार हो रहा है। सोमैया के इतना कहते ही तृणमुल कांग्रेस के सदस्य अपनी सीट पर खड़े होकर विरोध जताने लगे।

सौमेया ने अपनी बात जारी रखी किंतु माइक बंद होने के कारण वह अपनी सीट छोड़कर आगे आ गए। उनके ऐसा करते ही तृणमूल कांग्रेस के कल्याण बनर्जी और इद्रीस अली अपनी जगह से उठकर ट्रेजरी बेंच तक पहुंच गए और जोर-जोर से सोमैया का विरोध जताने लगे। सौमेया और तृणमूल कांग्रेस के सदस्यों के बीच तीखी नोंकझोंक होने लगी। इतने में केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर और कई भाजपा सदस्य बीच-बचाव करने लगे।

सदन में हंगामा बढ़ता देख अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सदन की बैठक कुछ देर के लिए स्थगित कर दी।

Updated : 2018-07-26T22:44:29+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top