Top
Home > देश > अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर राष्ट्रपति ने प्रदान किए नारी शक्ति सम्मान, कहा - बेटियों के जीवन में सुधार लाना हर नागरिक का कर्तव्य

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर राष्ट्रपति ने प्रदान किए नारी शक्ति सम्मान, कहा - बेटियों के जीवन में सुधार लाना हर नागरिक का कर्तव्य

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर राष्ट्रपति ने प्रदान किए नारी शक्ति सम्मान, कहा - बेटियों के जीवन में सुधार लाना हर नागरिक का कर्तव्य

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार को समाज के अलग-अलग क्षेत्रों की महिलाओं और संस्थानों को नारी शक्ति सम्मान से सम्मानित किया। इन महिलाओं को राष्ट्रपति भवन में हुए एक कार्यक्रम में यह पुरस्कार प्रदान किया गया। राष्ट्रपति ने 34 महिलाओं और संस्थानों को इस सम्मान से नवाजा।

इन महिलाओं में आईएनएसवी तारिणी पर सवार होकर दुनिया के सफर पर निकली नौसेना की छह महिला अधिकारी भी शामिल हैं। इसके अलावा समाज सुधार, विज्ञान, व्यापार, खेल, मनोरंजन और कला जगत जैसे अलग-अलग क्षेत्रों से संबंध रखने वाली तमाम महिलाओं को सम्मानित किया गया। राष्ट्रपति ने इन महिलाओं के योगदान को जमकर सराहा और कहा कि बेटियों के जीवन में सुधार लाना हर नागरिक का कर्तव्य है।

जिन महिलाओं को आज नारी शक्ति सम्मान से नवाजा गया, उनमें पदाला भूदेवी, बीना देवी, आरिफा जान, चामी मुर्मू, निलजा बांगु, रश्मि अर्धवाले, मान कौर, कलावती देवी, कौशिकी चक्रवर्ती, अवनी चक्रवर्ती, भावना कांत, महिमा सिंह जिटरवाल, भागीरथी अम्मा और कारथली अम्मा शामिल हैं। गौरतलब है कि भागीरथी अम्मा 105 वर्ष की हैं और कारथली अम्मा 95 साल की हैं। इनमें बिहार की बीना देवी को मशरूम की खेती को लोकप्रिय बनाने के लिए यह पुरस्कार दिया गया है।

Updated : 2020-03-09T12:24:10+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top