Top
Home > देश > पी.चिदंबरम ने कहा - कांग्रेस 12 राज्यों में मजबूत

पी.चिदंबरम ने कहा - कांग्रेस 12 राज्यों में मजबूत

पी.चिदंबरम ने कहा - कांग्रेस 12 राज्यों में मजबूत

नई दिल्ली। संसद के एनेक्सी भवन में जारी कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में रविवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी.चिदंबरम ने गठजोड़ को लेकर प्रस्ताव दिया। वहीं पार्टी के वरिष्ठ नेता जनार्दन द्विवेदी और दिग्विजय सिंह सीडब्ल्यूसी की बैठक में भाग नहीं ले रहे हैं। हालांकि पार्टी के अनुसार, उन्हें सीडब्ल्यूसी की इस बैठक में हिस्सा लेने के लिए आमंत्रित किया गया था। लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दोनों नेताओं को पहले ही हटा दिया है।

राहुल गांधी की अध्यक्षता में हो रही पहली सीडब्ल्यूसी में चिदंबरम ने गठजोड़ को लेकर प्रस्ताव देते हुए कहा कि 12 राज्यों में पार्टी मजबूत है। वहां हम अपनी संख्या तिगुनी कर सकते हैं। इस तरह करीब 150 सीटों पर पहुंच जायेंगे। सूत्रों के अनुसार चिदंबरम ने बैठक में दूसरे राज्यों में क्षेत्रीय पार्टियों के साथ गठबंधन करने पर जोर दिया। यानी कांग्रेस बाकी राज्यों में राज्यवार समझौता कर ले, उनकी संख्या मिलाकर 150 हो जायेगी। इस तरह कांग्रेस अन्य विपक्षी दलों के साथ मिलकर 2019 में सरकार बना सकती है। वहीं बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए चिदंबरम और कमलनाथ सहित कई वरिष्ठ नेताओं ने कहा, 'आरएसएस से लड़ना है, उसकी विचारधारा से लड़ना है।'

बैठक में यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि लोकतंत्र बचाने के लिए लाइक माइंडेड दलों को व्यक्तिगत महत्वाकांक्षाएं छोड़कर साथ आना चाहिए। वहीं सूत्रों के अनुसार बैठक में कांग्रेस नेता सचिन पायलट, शक्ति सिंह गोहिल, रमेश चेन्निथला ने कहा कि हमें रणनीतिक गठबंधन करना चाहिए, लेकिन उस गठबंधन में कांग्रेस पार्टी शीर्ष होनी चाहिए और राहुल गांधी को चेहरा गठबंधन बनाया जाना चाहिए। इसको लेकर बैठक में हुई चर्चा के अधार पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने संवाददाताओं से कहा, 'लोग अब कांग्रेस में विश्वास व्यक्त कर रहे हैं। मैं कह रहा हूं कि गठबंधन इस बात पर निर्भर करेगा कि राष्ट्रीय नेतृत्व हमें कहां ले जाता है और उसी के आधार पर हम गठबंधन की दिशा में बढ़ेंगे।'

बैठक में यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा, 'संघ से मुकाबले के लिए विपक्ष को निजी महत्वकांक्षा छोड़कर एकजुट होना होगा।'

वहीं कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला के अनुसार कार्यकारिणी समिति में कृषि, युवा, अर्थव्यवस्था, देश की आंतरिक व बाहरी सुरक्षा, अनुसूचित जाति/जनजाति/ओबीसी/ महिलाओं से संबंधित संस्थानों की अखंडता पर गहन चर्चा हुई।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के पार्टी अध्यक्ष बनने और उनकी अध्यक्षता में गठित सीडब्लूसी की इस पहली बैठक में एक नए कलेवर के साथ पूरे देश के हर वर्ग को एकजुट करने की चर्चा की गई। बैठक में आगामी विधानसभा और लोकसभा चुनाव पर विस्तार से चर्चा हुई और पालिसी भी बनाई गई। बैठक में सीडब्ल्यूसी सदस्यों के अलावा सभी राज्यों के प्रदेश अध्यक्ष और सीएलपी नेताओं को भी बुलाया गया है।

Updated : 2018-07-23T22:05:14+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top