Top
Home > देश > हैदराबाद केस पर मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने तोड़ी चुप्पी, कहा - सुनवाई को बनेगा फास्ट ट्रैक कोर्ट

हैदराबाद केस पर मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने तोड़ी चुप्पी, कहा - सुनवाई को बनेगा फास्ट ट्रैक कोर्ट

हैदराबाद केस पर मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने तोड़ी चुप्पी, कहा - सुनवाई को बनेगा फास्ट ट्रैक कोर्ट

हैदराबाद। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने चुप्पी तोड़ते हुए निर्देश दिया है कि हैदराबाद में महिला डॉक्टर से रेप और हत्या मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी।

मुख्यमंत्री राव ने मर्डर केस के दोषियों को सख्त सजा दिलाने के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने के निर्देश दिए हैं।। राव ने कहा कि मामेल की जांच शीघ्र ही पूरी की जाएगी। आपको बताते जाए कि चार दिन पहले एक महिला डॉक्टर के साथ गैंगरेप करके उनकी हत्या कर दी गई थी।

तेलंगाना के मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से कहा गया कि मुख्यमंत्री ने मामले की जांच तेजी से करने का आदेश दिया है। महिला डॉक्टर के बलात्कार और हत्या के मामले में मुख्यमंत्री केसीआर ने कहा है कि पूरे मामले की जांच तेजी से की जाए और दोषियों को सख्त से सख्त दिलाई जाए।

इससे पहले तेलंगाना राष्ट्र समिति के कार्यकारी अध्यक्ष और राज्य मंत्री के. टी. रामाराव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दुष्कर्म पीड़िता पशु चिकित्सक के परिवार के साथ न्याय करने का आग्रह किया। हैदराबाद के बाहरी इलाके में 27 नवंबर को युवा पशु चिकित्सक के साथ सामूहिक दुष्कर्म कर उसकी हत्या कर दी गई थी। रामा राव ने भारतीय दंड संहिताऔर आपराधिक प्रक्रिया संहिता में संशोधन की मांग की, ताकि जो भी हमारी महिलाओं और बच्चों के साथ इस तरह के जघन्य कृत्य को अंजाम दे, उन्हें बिना देरी के मृत्युदंड दिया जा सके। टीआरएस नेता ने मांग की कि इस तरह के मामलों में समीक्षा का कोई विकल्प नहीं होना चाहिए।

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव के बेटे राम राव ने रविवार को ट्वीट कर प्रधानमंत्री को याद दिलाया कि निर्भया के भयावह दुष्कर्म और हत्या के सात साल बाद भी दोषियों को फांसी नहीं दी गई है।

Updated : 1 Dec 2019 3:49 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top