Top
Home > देश > लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए अभी से योगी आदित्यनाथ की मांग

लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए अभी से योगी आदित्यनाथ की मांग

लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए अभी से योगी आदित्यनाथ की मांग
X
File Photo

- जिन सीटों पर प्रचार किया उनमें से 39 प्रतिशत पर जीत

नई दिल्ली। गोरखनाथ पीठ , गोरखपुर के महंत व उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ के प्रति हिन्दुओं, विशेषकर युवकों का रूझान बढ़ता जा रहा है जिस कारण हर विधान सभा चुनाव में उनके प्रचार की मांग बढ़ती जा रही है। हालत यह है कि लोकसभा चुनाव में प्रचार करने के लिए बहुत से भाजपा नेता व सांसद अभी से उनसे प्रचार के लिए आग्रह करने लगे हैं।

उनके एक विश्वस्त का कहना है कि कई राज्यों के भाजपा सांसद , नेता अभी से महाराज (योगी आदित्य नाथ ) को फोन करके अपने लोकसभा क्षेत्र में प्रचार के लिए आने का आग्रह करने लगे हैं। जिन भाजपा शासित राज्यों में अगले वर्ष विधान सभा चुनाव होने वाले हैं , उनके मुख्य मंत्री , कई मंत्री भी ऐसा आग्रह कर रहे । इस बारे में नाथ संप्रदाय से जुड़े योगी निरंजन लाथ का कहना है कि मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ जिस गोरखनाथ पीठ व नाथ संप्रदाय से हैं , कई प्रमुख राज्यों में उसके मठ व अनुयायी हैं। इन राज्यों में इनको जानने, मानने वालों की अच्छी संख्या है। नाथ संप्रदाय से लगभग सभी जाति के लोग जुड़े हुए हैं। इस वजह से जिन राज्यों में भी विधानसभा चुनाव हुए हैं , प्रचार के लिए अन्य भाजपा मुख्यमंत्रियों से अधिक योगी आदित्य नाथ की मांग हुई ।

भाजपा के सांसद लाल सिंह बड़ोदिया का कहना है कि योगी आदित्य नाथ के प्रचार का पार्टी को फायदा भी हुआ । हाल ही में मध्य प्रदेश , राजस्थान , छत्तीसगढ़ व तेलंगाना में हुए विधानसभा चुनाव में योगी आदित्यनाथ अन्य नेताओं से अधिक सुर्खियों में रहे। इनकी सभा में भीड़ भी अच्छी जुटती रही।

एक एनालिसिस एजेंसी के अनुसार इन चार राज्यों में योगी ने 79 विधान सभा क्षेत्रों में 58 रैलियां की । भाजपा इनमें से 42 पर हारी, 27 सीटों पर जीती । छत्तीसगढ़ में योगी ने 23 विधानसभा क्षेत्रों में 23 रैलियां की । ये वे क्षेत्र थे जहां भाजपा को पूरी तरह सफाये की आशंका थी। इन 27 में से भाजपा को 05 सीटें मिलीं। राजस्थान व म.प्र. में योगी ने 37 विधानसभा क्षेत्रों में 27 चुनावी रैली व सभा की। इन 37 में से 21 पर भाजपा जीती।

बीएचयू प्रबंध संस्थान के डीन रहे प्रो.छोटेलाल का कहना है कि विधानसभा सीटों पर प्रचार व जीत के प्रतिशत के आंकड़े के अनुसार योगी आदित्यनाथ ने जिन विधान सीटों पर प्रचार किया उनमें से 39 प्रतिशत सीटें भाजपा जीती। जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जिन सीटों पर प्रचार किये उनमें से जीत वाली सीटों का प्रतिशत 29 रहा। वैसे तो देश – विदेश में प्रसिद्धि व प्रचार के मामले में मोदी से योगी की कोई तुलना ही नहीं है , लेकिन ब्रांड "हिन्दुत्व" के मामले में उ.प्र. व अन्य राज्यों में योगी अन्य भाजपा नेताओं से बीस हैं। (हि.स.)

Updated : 2019-01-05T14:19:23+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top