Top
Home > Archived > दाल बाजार की यातायात व्यवस्था

दाल बाजार की यातायात व्यवस्था

दाल बाजार की यातायात व्यवस्था
X

-वाहन आज से खड़े होंगे सफेद पट्टी के अन्दर
-सामान बाहर रखा तो एक से पांच हजार का लगेगा जुर्माना
ग्वालियर।
दाल बाजार शहर में खाद्यान्न व्यवस्था की आपूर्ति करने वाला मुख्य बाजार है। दाल बाजार में दिन भर छोटे और बड़े वाहनों का जमावड़ा रहता है जिससे यहां से निकलना बेहद ही कठिन होता है। दाल बाजार की यातायात व्यवस्था को सुचारू करने के लिए दाल बाजार के पदाधिकारी और नगर निगम के अधिकारियों द्वारा मंगलवार की शाम को दाल बाजार का निरीक्षण किया। इसके उपरांत मंगलवार की रात में दाल बाजार में सड़क के दोनों और 500 मीटर तक की सफेद पट्टी डालने का निर्णय लिया गया। वहीं दाल बाजार व्यापार समिति ने भी निर्णय लिया है कि जो भी दुकानदार दुकान के बाहर अगर अपना सामान रखता है तो उस पर प्रथम बार एक हजार और दूसरी बार पांच हजार रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि दाल बाजार में यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए यातायात पुलिस, स्थानीय पुलिस और दाल बाजार के व्यापारियों की एक बैठक विगत सप्ताह हुई थी। इस बैठक में तय किया गया था कि रविवार की रात को दाल बाजार में दोनो ओर सफेद पट्टी डाल दी जाएगी जिससे दो पहिया वाहन एवं अन्य आवश्यक वाहन तो सफेद पट्टी के अंदर खड़े होंगे एवं अनावश्यक वाहनों को अस्पताल रोड पर खड़ा किया जाएगा। ऐसा करने से एक तो दाल बाजार में यातायात का दवाब कम होगा और दूसरा यह कि वहां होने वाला व्यापार सुचारू रूप से हो सकेगा। इसी क्रम में मंगलवार को दाल बाजार में सफेद पट्टी डालने का निर्णय लिया गया जिससे बुधवार से दाल बाजार में खड़े होने वाले सभी वाहन सफेद पट्टी के अंदर खड़े हो सकेंगे।

कैमरे और साउण्ड सिस्टम को भी सुधारने की आवश्यकता
दाल बाजार की यातायात व्यवस्था के बाद अब दाल बाजार में कैमरे और साउण्ड सिस्टम सुधारने की भी आवश्यकता है। दाल बाजार में जब तक कैमरे और साउण्ड सिस्टम सहीं नहीं होता है तब तक यातायात की सुरक्षा भी खतरे के निशान में बनी हुई है।

एक नजर में
*दाल बाजार में सुबह से शाम तक सड़क के दोनों ओर हाथ ठेले खड़े ही रहते हैं।
* वहीं व्यापारी भी अपने माल को सड़क तक रख देते हैं।
* लोडिंग वाहन भी दिनभर माल भरने और उतारने का कार्य करते रहते हैं।

‘मंगलवार की रात में पट्टी डालने के उपरांत बुधवार से सभी वाहन इस पट्टी के अंदर ही खड़े होंगे। अगर सड़क पर व्यापारियों का सामान रखा मिला तो नगर निगम द्वारा इनका चालान भी काटा जाएगा।’

वीरेन्द्र शाक्य
क्षेत्रीय अधिकारी
नगर निगम

‘पट्टी डालने के उपरांत सभी वाहन उसकी जद में रहेंगे। दुकान के बाहर सामान रखने पर एक से पांच हजार रुपए का जुर्माना दाल बाजार व्यापार समिति लगाएगी। रही बात कैमरे और साउण्ड सिस्टम की तो इनको सुधरवाया जा रहा है। ’

गोकुल बंसल
अध्यक्ष, दाल बाजार

Updated : 2017-05-03T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top