Top
Home > Archived > दिन व रात का पारा सामान्य के करीब

दिन व रात का पारा सामान्य के करीब

दिन व रात का पारा सामान्य के करीब
X

ग्वालियर| मौसम में आए परिवर्तन के चलते फिलहाल दो से तीन दिनों तक गर्मी से राहत बनी रहेगी। इस दौरान स्थानीय प्रभाव से गरज-चमक के साथ बंूदाबांदी भी हो सकती है।

पिछले कुछ दिनों से बादलों की आवा-जाही और हवाओं का रुख दक्षिण पश्चिमी होने से दिन व रात का तापमान सामान्य के करीब ही बना हुआ है। इसके चलते भीषण गर्मी और लू से राहत बनी हुई है। सोमवार को भी आसमान में बिखरे हुए बादलों की टुकड़ियां घुमड़ती रहीं और हवाएं भी दक्षिण पश्चिमी चलीं, जिनकी गति चार से छह किलोमीटर प्रति घण्टा थी। दिन भर बिखरे हुए बादल छाए रहने और हवाओं में नमी होने की वजह से सूरज उग्र रूप नहीं दिखा पाए। इसके चलते सोमवार को पिछले दिन की तुलना में अधिकतम तापमान 0.9 डिग्री सेल्सियस गिरावट के साथ 41.0 डिग्री सेल्सियस पर ही ठहर गया, जो औसत से 1.1 डिग्री सेल्सियस कम है। न्यूनतम तापमान भी 0.1 डिग्री सेल्सियस आंशिक वृद्धि के साथ 27.6 डिग्री सेल्सियस पर स्थिर बना रहा, जो औसत से महज 0.2 डिग्री सेल्सियस अधिक है, जबकि हवा में नमी सुबह 47 और शाम को 33 फीसदी दर्ज की गई, जो सामान्य से क्रमश: 14 व 14 फीसदी अधिक है।

दिल्ली में बने चक्रवात का असर
मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल के सेवानिवृत्त मौसम विज्ञानी डी.पी. दुबे ने बताया कि दिल्ली के पास ऊपरी हवाओं का एक चक्रवात बना हुआ है। इसी के असर से ग्वालियर व चम्बल अंचल में भी बिखरे हुए बादल छाए हुए हैं, लेकिन इन बादलों से बारिश की उम्मीद कम है। हालांकि स्थानीय स्तर पर कोई सिस्टम डवलप हुआ तो अवश्यक गरज-चमक के साथ हल्की-फुल्की बारिश हो सकती है। उन्होंने बताया कि हाल ही में राजस्थान में बारिश हो जाने से वहां तापमान गिर गया है। इसी कारण ग्वालियर व चम्बल अंचल में भी तापमान सामान्य स्थिति में बना हुआ है। उन्होंने बताया कि फिलहाल दो से तीन दिनों तक मौसम इसी प्रकार नरम बने रहने की संभावना है।

Updated : 2017-05-23T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top