Latest News
Home > Archived > मैं 2019 में पीएम पद का उम्मीदवार नहीं हूं: नीतीश कुमार

मैं 2019 में पीएम पद का उम्मीदवार नहीं हूं: नीतीश कुमार

मैं 2019 में पीएम पद का उम्मीदवार नहीं हूं: नीतीश कुमार
X

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि मैं 2019 में होने वाले चुनाव में पीएम पद का उम्मीदवार नहीं हूं, हम तो बिहार की सेवा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम इतने बड़े मूर्ख नहीं हैं, हम जानते हैं कि हमारी पार्टी, जदयू छोटी-सी पार्टी है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी को जनसमर्थन मिला है और उनमें क्षमता है इसीलिए वो प्रधानमंत्री हैं।

नीतीश ने कहा कि हम जानते हैं कि हमारा कोई एस्पाइरेंट नहीं, कौन इसमें इमर्ज करेगा यह अभी कहा नहीं जा सकता है। पांच साल पहले मोदी जी को कौन जानता था? लेकिन उनमें पीएम बनने की क्षमता थी इसीलिए आज वो पीएम हैं।

नीतीश कुमार ने लालू यादव की संपत्ति जांच के मामले में मुझे कुछ नहीं कहना है। लालू पर जो आरोप लग रहे हैं उनका जवाब खुद लालू दे रहे हैं। इस बारे में मुझे कुछ नहीं कहना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जाे आराेप लग रहे हैं उसकी जांच केंद्र सरकार की एजेंसी कर सकती है, राज्य सरकार नहीं।

नीतीश ने कहा कि भाजपा का काम ही है कि राज्य सरकार को काम ना करने दे। सुशील मोदी ने आरोप लगाए हैं तो अगर वो सही निकलते हैं तो यह जांच का विषय होना चाहिए। इसमें कानून अपना काम करेगा।

राष्ट्रपति चुनाव के मामले में नीतीश ने कहा कि हम तो यही चाहेंगे कि प्रणव मुखर्जी फिर से देश के राष्ट्रपति बनें और इस पद के चुनाव के लिए आम सहमति से ही निर्णय लेना चाहिए। यही परंपरा रही है, अगर सहमति नहीं बने ताे विपक्ष काे अपना प्रत्याशी देना फर्ज है। नीतीश ने कहा कि वो २७ अगस्त काे लालू की रैली में भाग लेंगे।

उन्होंने कहा कि दहेज लेनेवालों के यहां शादी में नहीं जायें, तभी दहेज प्रथा से मुक्ति मिलेगी, सरकार दहेज प्रथा के खिलाफ अभियान चलाएगी। उन्होंने कहा कि युवा पीढ़ी दहेज प्रथा के खिलाफ हो जाए इससे अच्छी बात क्या होगी, लेकिन कानूनी पहलू को देखना होगा। सीएम ने कहा कि जनचेतना से ही दहेज प्रथा और बाल विवाह पर रोक लग सकती है

Updated : 2017-05-15T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top