Top
Home > Archived > सौदागर बाप ने बेटी बेचे जाने का विरोध करने पर विवाहित पुत्री, दामाद व धेवती पर फैंका तेजाब

सौदागर बाप ने बेटी बेचे जाने का विरोध करने पर विवाहित पुत्री, दामाद व धेवती पर फैंका तेजाब

-एसिड अटैक में घायल माँ, बेटी की दशा गंभीर
-पूर्व में एक अन्य बेटी को आरोपी बेच चुका है अलवर में
-इस हरकत से क्षुब्ध आरोपी की पत्नी ने भी छोड़ा उसका साथ

मथुरा। एक बेरहम बाप ने एक बेटी का सौदा करने के बाद दूसरी पर हाथ डालने की कोशिश की तो उसकी विवाहिता बेटी व पत्नी द्वारा बगावत किये जाने से क्षुब्ध होकर अपनी विवाहित पुत्री, दामाद व धेवती पर तेजाब से हमला कर मानवीयता के साथ ही रिश्तों के जोड़ को भी तार-तार कर दिया। आरोपी की इन्हीं हरकतों के कारण उसकी पत्नी भी उसका साथ छोड़कर अपने मायके में रहने को मजबूर है। एसिड अटैक की घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

बताया गया कि पड़ौसी जनपद हाथरस के सासनी थानाक्षेत्र के गधाखेड़ा निवासी मानिकचन्द ने अपनी बेटी खुशबू की शादी विनोद पुत्र हुलासीराम निवासी हाथरस के साथ चार-पांच वर्ष पूर्व कर दी थी। इसके बाद मानिक अपनी विवाहित पुत्री का सौदा करने की तैयारी कर रहा था। जिसकी भनक उसकी बेटी व दामाद को लग गयी तो वह वहां से घर छोड़कर मथुरा के ग्राम आजमपुर में किराये का मकान लेकर रहने लगे। खुशबू का पति विनोद यहां रहकर प्लम्बर का कार्य करता था।
बताते हैं कि विवाहित पुत्री को बेचने में असफल पिता ने हार नहीं मानी और उसकी छोटी बहन अंजलि का सौदा अलवर निवासी भूदेव से 70 हजार रुपये में कर दिया। एक बेटी का सौदा करने के बाद भी सनकी पिता की पैसों की भूख शांत नहीं हुई और वह अपनी तीसरी पुत्री को भी बेचने की तैयारी में जुट गया। जैसे ही उसकी पत्नी को अपने पति की इस करतूत का भान हुआ तो उसने अपनी पुत्री खुशबू को यह शर्मनाक जानकारी दी। इस पर माँ-बेटी ने पिता के विरोध में बगावत का बिगुल फूंक दिया। बगावत से बौखलाये मानिक चंद ने शनिवार की रात्रि अपनी पुत्री खूशबू, दामाद विनोद और उनकी तीन वर्षीय पुत्री त्रिश्या के ऊपर तेजाब से हमला कर दिया।

बताते हैं कि रात्रि में दरवाजे पर दस्तक होने पर विनोद ने जैसे ही गेट खोला, तभी आरोपी ने उस पर तेजाब फैंक दिया जिससे उसकी चीख निकल गयी। चीख सुनकर अपनी पुत्री के साथ बाहर आयी उसकी पत्नी खुशबू पर भी आरोपी ने तेजाब फैंक दिया। जिसके फलस्वरूप तीनों गंभीर रूप से जल गये।

तेजाब से हमला करने के बाद आरोपी वहां से फरार हो गया। वहीं तीनों घायलों की चीख सुनकर एकत्रित हुए आस-पास के लोगों ने उनको उपचार के लिये जिला अस्पताल में भर्ती कराया साथ ही इस घटना की पुलिस को सूचना दे दी। अस्पताल में चिकित्सकों ने खुशबू और उसकी पुत्री त्रिश्या की हालत गंभीर देखते हुये उन्हें आगरा के लिये रैफर कर दिया है।


इस संबंध में घायल विवाहिता खुशबू ने बताया कि उसके पिता ने उसक छोटी बहिन अंजली को अलवर निवासी भूदेव को 70 हजार रूपये में बेच दिया था और अब वह अपनी दूसरी पुत्री को भी बेचना चाहता था जिसका वह विरोध कर रही थी।
इसी से क्षुब्ध होकर उसके पिता ने उनके ऊपर तेजाब से हमला किया है। वहीं आरोपी की पत्नी भी अपने पति की इन हरकतों से परेशान होकर अपने मायके रह रही है। इस संबंध में विवाहिता के पति ने अपने ससुर मानिकचंद के खिलाफ थाना गोविंद नगर में तहरीर दी है।

Updated : 2017-05-01T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top