Latest News
Home > Archived > भारत-बांग्लादेश सीमा पर मिली 80 मीटर लंबी सुरंग, बीएसएफ और अन्य सुरक्षा एजेंसियां सतर्क

भारत-बांग्लादेश सीमा पर मिली 80 मीटर लंबी सुरंग, बीएसएफ और अन्य सुरक्षा एजेंसियां सतर्क

भारत-बांग्लादेश सीमा पर मिली 80 मीटर लंबी सुरंग, बीएसएफ और अन्य सुरक्षा एजेंसियां सतर्क
X

किशनगंज। भारत-बांग्लादेश सीमा पर मिली 80 मीटर लंबी सुरंग, मिली है। लगभग छह फीट उंचाई और पांच फीट चौड़ाई वाली इस सुरंग की खोज सीमा सुरक्षा बलों (बीएसएफ) ने करके देश की सुरक्षा में सेंध लगाने वालों के मंसूबे पर पानी फेर दिया है।

सुरंग पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर जिले के चोपड़ा थाना अंतर्गत फतेहपुर बीओपी इलाके में सुरंग मिली है। इस इलाके की सुरक्षा की जिम्मेदारी बीएसएफ की 139वीं बटालियन के पास है। सेक्टर मुख्यालय के जी ब्रांच द्वारा जुटाई गई सूचना के आधार पर चाय बगान के बीचो-बीच खोदी जा रही सुरंग का उद्भेदन सोमवार देर रात किया गया।

पूरे मामले से बीएसएफ मुख्यालय और गृह मंत्रालय को अवगत कराया गया है। सीमा से सटे इलाके में इतनी लंबी-चौड़ी सुरंग मिलना भी बीएसएफ के लिए सवाल है। हालांकि बीएसएफ इसे अपनी कामयाबी मान रही है।
अधिकारियों का कहना है कि आमतौर पर इस तरह की सूचना स्थानीय पुलिस या भारत सरकार की एजेंसियों के माध्यम से मिलती है। इस बार यह कामयाबी बीएसएफ की आंतरिक खुफिया एजेंसी ने जुटाई और सुरंग का उद्भेदन किया। सुरंग मिलने की सूचना पर बीएसएफ और अन्य सुरक्षा एजेंसियां भी सतर्क हो गई हैं। सीमा से सटे इलाके में सुरंग खोदे जाने की जानकारी मिलते ही बीएसएफ अधिकारियों के हाथ-पांव फूलने लगे हैं । सुकमा में हुए नक्सली हमले और मंगलवार को गृहमंत्री के सहरसा दौरे के मद्देनजर बीएसएफ डीआइजी से लेकर तमाम अधिकारी सोमवार से सीमा पर सुरंग का पता लगाने में जुट गए। देर रात में सुरंग का पता चलते ही इलाके को सील कर दिया गया। 139वीं बटालियन के जवानों ने इलाके में गश्त तेज करते हुए संदिग्ध गतिविधि पर नजर रख रही है।

वहीं बीएसएफ अधिकारियों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार सुरंग भारतीय सीमा में खोदी जा रही थी। समय रहते सुरंग का पता चल गया अन्यथा सीमा पार सुरंग चले जाने से अनहोनी की आशंका से इन्कार नहीं किया जा सकता।
हालांकि बीएसएफ अधिकारियों का कहना है कि प्रथमदृष्टया यह मामला पशु तस्करी से जुड़ा हुआ प्रतीत होता है। वहीं, अधिकारी यह भी बताते हैं कि अन्य कारणों को लेकर भी बीएसएफ जांच कर रही है। अभी तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

Updated : 2017-04-27T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top