Home > Archived > पार्क में नाचते हुए पसंद नहीं करेंगे लोग:संजय दत्त

पार्क में नाचते हुए पसंद नहीं करेंगे लोग:संजय दत्त

आगरा। अभिनेता को उम्र के हिसाब से आगे बढऩा चाहिए। मैं इसी हिसाब से आगे बढ़ा हूं। लोग नहीं चाहेंगे कि मैं अदिती के साथ गार्डन और नदी के किनारे डांस करूं। इसमें मैं अच्छा भी नहीं लगूंगा। मैं मैच्योर एक्टर का किरदार निभाकर फिल्म इंडस्ट्री की जरूरत को पूरा करना चाहता हूं।

अभिनेता संजय दत्त ने शुक्रवार को होटल कोर्टयार्ड बाइ मैरियट में हुई पत्रकार वार्ता में अपनी कमबैक फिल्म भूमि में पिता का किरदार निभाने पर यह बात कही। संजय दत्त ने कहा कि उनकी नानी उप्र और नाना बिहार के थे, लेकिन वह दोनों राज्यों के बंदे हैं। शूटिंग अच्छी चल रही है। मैं पांच साल बाद कैमरा फेस कर रहा हूं, मुझे सहयोग करें। कमबैक फिल्म में काम करते हुए पहली फिल्म की तरह ही अनुभूति हो रही है। भूमि की कहानी आगरा में रहने वाले एक आम इंसान की है, जो अपने बच्चों से बहुत प्यार करता है। यह पिता और बेटी द्वारा बदला लेने की कहानी है। मैं भी अपने बच्चों से बहुत प्यार करता हूं। फिल्म इंडस्ट्री में आए बदलाव पर उन्होंने कहा कि आज के कलाकार बहुत मेहनत करते हैं। दुनिया बदली है, टाइम बदला है। हमारे समय दिल से काम होता था, आज सब दिमाग से चलता है। उन्होंने कहा कि इंडस्ट्री में उनका अनुभव बहुत अच्छा रहा है। सभी का सहयोग मिला। फिल्म विधाता की आगरा में हुई शूटिंग पर उन्होंने कहा कि तब शहर को शूट नहीं किया गया था। होटल के अंदर ही शूटिंग हुई थी। त्रिशाला दत्त के फिल्म इंडस्ट्री में आने के सवाल पर संजय ने कहा कि उसकी फिल्म करने में रुचि नहीं है। उसने फोरेंसिक साइंस पढ़ी है। उसे च्हदी भी ढंग से बोलना नहीं आती। बायोपिक करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि अब उम्र हो गई है।

पत्रकारों से अभद्रता करने वालों पर कड़ी कार्यवाही की मांग
दो मार्च को अभिनेता संजय दत्त की फिल्म की शूटिंग के दौरान फतेहाबाद रोड को फिल्म यूनिट से जुड़े लोगों द्वारा बंद किए जाने के बाद लोगों की शिकायत पर पहुंचे मीडियाकर्मियों के साथ फिल्म यूनिट से जुड़े लोगों ने अभ्रदता कर दी थी। जिस पर पत्रकारों ने थाना सदर में तहरीर भी दी थी। शुक्रवार को भाजपा बृजक्षेत्र मीडिया प्रभारी एड. सुरेन्द्र गुप्ता, सहमीडिया प्रभारी केके भारद्वाज, डब्बू पंडित, वरूण कौशिक, अर्पित चित्रांश ने कहा पत्रकारों से अभद्रता और मारपीट निन्दनीय है और जनता को किसी भी घटना से रूबरू कराना पत्रकारों का दायित्व है। फिल्म यूनिट से जुड़े लोगों ने जिस तरह से अभद्रता की है, प्रशासन अतिशीघ्र दोषियों पर कार्रवाही करे।


Updated : 2017-03-04T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top