Home > Archived > पानी से कर रहे हैं गंभीर बीमारियों को दूर

पानी से कर रहे हैं गंभीर बीमारियों को दूर

पानी से कर रहे हैं गंभीर बीमारियों को दूर
X

एलोपैथी दवाइयों से कहीं अधिक प्रभावशाली है यह चमत्कारिक पानी

ग्वालियर| देखने में आ रहा है कि वर्तमान वातावरण के कारण बीमारी-दुखी आज हर घर में व्याप्त है। अस्पतालों में मरीजों की लम्बी-लम्बी कतारें लगी हुई हंै। लोगों की मेहनत का काफी पैसा चिकित्सकों की फीस और दवाईयों में खर्च हो रहा है, इसके बावजूद भी लोग स्वस्थ्य नहीं हो रहे हैं।

चिकित्सकों द्वारा दी जाने वाली दवाईयों के कारण एक बीमारी सही न होकर दूसरी पैदा हो रही है। वहीं लोग स्वस्थ व निरोगी रहें इस हेतु बालाजी धाम गरगज कॉलोनी बहोड़ापुर में प्रत्येक रविवार को दोपहर एक बजे से नि:शुल्क शिविर लोगों के लिए काफी समय से चलाया जा रहा है। इस शिविर में लोगों को चमत्कारिक पानी उपलब्ध कराया जा रहा है जो लोगों की कई बीमारियों को दूर करने का कार्य कर रहा है। यहां प्रत्येक रविवार को दोपहर एक बजे सैंकड़ों की संख्या में लोग चमत्कारिक पानी से इलाज कराने के लिए इकट्ठा होते हैं। इस पानी से अब तक कई लोग स्वस्थ भी हो चुके हैं।

चमत्कारिक पानी से लोगों की बीमारी का इलाज करने वाले ज्योतिषाचार्य पंडित सतीश सोनी ने बताया कि भारतवर्ष में कई तरह की चिकित्सा पद्धतियों द्वारा बीमारियों को दूर करने के लिए योगदान चल रहा है, जिसमें सूर्य चिकित्सा, जल चिकित्सा, मिट्टी चिकित्सा, मालिश चिकित्सा, चुंबकीय चिकित्सा ,एलोपैथिक चिकित्सा, होम्योपैथिक एवं आयुर्वेदिक चिकित्सा और प्राकृतिक चिकित्सा आदि शामिल हैं। ज्योतिषाचार्य ने बताया कि आज विदेशी लोग भी हमारे आयुर्वेदिक उपचारों की ओर आकर्षित हो रहे हैं। अत: हमें भी महंगी दवाओं से दूर होकर प्राकृतिक चिकित्सा को अपनाना चाहिए जिससे हम मधुमेह, सिरदर्द, ब्लड प्रेशर, मोटापा, लीवर रोग, कैंसर एवं बवासीर आदि बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं।

प्राकृतिक चिकित्सा रोगों का नाश करती है
ज्योतिषाचार्य ने बताया कि प्राकृतिक चिकित्सा रोगों को दबाती नहीं है, वरन जड़ मूल से निकालकर शरीर को पूर्ण रूप से निरोग कर देती है। इसी के तारतम्य में आज के युग में जल चिकित्सा भी लोगोें के लिए कारगर सिद्ध हो रही है। इस पानी से सैंकड़ों लोग लाभान्वित हो रहे हैं।

चमत्कारिक पानी की विशेषता
*लोगों को दिए जाने वाले इस जल में मंत्रों से दैवीय शक्ति का समावेश कराया जाता है।
* इसमें कुछ आयुर्वेदिक पद्धति का भी सहारा लिया जाता है।
* यह पानी स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभदायक है। इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है।
* जल तैयार होने में एक सप्ताह का समय लगता है।
इस जल को हर वर्ग का व्यक्ति प्राप्त कर सकता है।

Updated : 2017-03-19T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top