Top
Home > Archived > दो दिन में ही दलालों ने तोड़ दी पॉम इम्प्रेशन मशीन

दो दिन में ही दलालों ने तोड़ दी पॉम इम्प्रेशन मशीन

दो दिन में ही दलालों ने तोड़ दी पॉम इम्प्रेशन मशीन
X

आरपीएफ को सौंपा आवेदन, आरक्षण कराने वाले लोग हुए परेशान

ग्वालियर| ग्वालियर रेलवे स्टेशन के आरक्षण कार्यालय में दलाल इस तरह हावी हैं कि रेलवे द्वारा यात्रियों को दी जाने वाली सुविधा के लिए लगाई गई मशीन को भी दलालों ने तहस -नहस कर डाला। यह सब इसलिए किया गया क्योंकि मशीन लगने से दलालों की कमाई बंद हो रही थी। इस मामले में अभी तक तोड़फोड़ करने वालों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है। रेलवे के अधिकारियों ने इस मामले में आरपीएफ को एक शिकायती आवेदन भेज दिया है। ज्ञात हो कि आठ माह पहले ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर पॉम इम्प्रेशन मशीनें लगाई गई थी। लेकिन कुछ कमियों की वजह से इन मशीनों को शुरू नहीं किया गया था। लेकिन जब रेलवे ने इन मशीनों को शुरू किया तो दलालों ने अपना खेल चमकाना शुरू कर दिया। जिसका नतीजा यह हुआ कि गुरूवार को प्लेटफार्म क्रमांक एक के बाहर बने आरक्षण कार्यालय में लगी पॉम इम्प्रेशन मशीन को दलालों द्वारा तोड़ दिया गया।

रेलवे स्टेशन की एक पॉम इंप्रेशन टोकन मशीन को दलालों ने तहस नहस कर दिया, जबकि दूसरी झटके लेकर चल रही है। इससे यात्रियों को टोकन लेने में परेशानी हो रही है। आरक्षण केन्द्रों में सीसीटीवी भी लगाए गए हैं। एक बार टोकन लेने के 2 घंटे बाद तक दूसरा टोकन नहीं मिलता। जिसके चलते दलालों को परेशानी हो रही है।

हथेली लगाई तो कट गया अंगूठा:- गुरूवार को टूटी पॉम मशीन के बाद जब आरक्षण कराने के लिए आरक्षण कार्यायल पहुंचे यात्री ने टोकन लेने के लिए पॉम मशीन में हथेली लगाई, तो हथेली निकालने के चक्कर में यात्री का अंगूठा कट गया। हांलाकि इस मामले की जानकारी किसी भी रेल अधिकारी को नहीं है।
एडीआरएम ने देखा था कैसे काम करती है

बीते रोज ग्वालियर रेलवे स्टेशन का निरीक्षण करने आए एडीआरएम विनीत सिंह ने आरक्षण कार्यालय में लगी पॉम इम्प्रेशन मशीन को भी देखा व कर्मचारियों से जानकारी भी ली। लेकिन उनके जाते ही दलालों ने अपना काम चमका दिया।

छोटी हथेली की समस्या
वर्तमान में ग्वालियर स्टेशन पर लगाई गई मशीनों में यदि कोई छोटी हथेली वाला व्यक्ति टोकन प्राप्त करना चाहता है तो उसे समस्या आ रही है। इसे दूर करने के लिए तकनीकी विभाग मशीनों में कार्य कर रहे हैं।

फोटो खिंचते ही पहुंचेगा एसएमएस
ग्वालियर रेलवे स्टेशन के आरक्षण कार्यायल में लगी मशीनों के साथ यदि कोई व्यक्ति छेड़छाड़ करता है या उन्हें खराब करने का प्रयास करेगा तो उसका फोटो मशीन में लगाए जाने वाले कैमरे में खिंच जाएगा। इसके बाद एक एसएमएस रेलवे व आरपीएफ कंट्रोल रूम में रखे मोबाइल फोन में पहुंच जाएगा। सूचना मिलते ही आरपीएफ जवान ऐसे व्यक्ति को पकड़ लेंगे। यह प्रकिया भी जल्द शुरू की जाएगी।

इनका कहना है
रेलवे संपत्ति को नुकसान पहुंचाना अपराध है। मशीन को तकनीकी विभाग द्वारा दुरूस्त कराया जाएगा व तोड़फोड़ करने वालों के खिलाफ आरपीएफ द्वारा कार्रवाई की जाएगी।

विजय कुमार
सीपीआरओ

Updated : 2017-03-17T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top