Top
Home > Archived > हाइवे के तीन लुटेरे गिरफ्तार

हाइवे के तीन लुटेरे गिरफ्तार

स्वाट टीम और कोतवाली पुलिस को मिली बड़ी सफलता
14 मोबाइल समेत 3 तमंचे बरामद
झांसी। हाइवे पर लगातार हो रही लूट व छिनौती की घटनाआें को झांसी पुलिस रोकने में नाकाम साबित हो रही थी। जिससे आला अफसर काफी नाराज थे उनकी नाराजगी फिलहाल स्वाट टीम प्रभारी विक्रम सिंह और नावाबाद प्रभारी धर्मवीर सिंह की टीम ने तीन लुटेरों को दबोचकर दूर कर दी है। फिलहाल पकडे़ गये लुटेरों से एक बाइक के अलावा ग्यारह मोबाइल और तीन तमन्चे भी बरामद हुये हैं।

लगातार हो रही लूट व छिनौती की घटनाआें को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अखिलेश चौरसिया ने एसपी सिटी दिनेश सिंह के निर्देशन में स्वाट टीम प्रभारी विक्रम सिंह और कोतवाली निरीक्षक आशीष मिश्रा को इस अभियान में लगाया। जिस पर दोनों टीमें बदमाशों की धरपकड़ के लिये अभियान चलाकर दबिश दे रही थीं। तभी रात्रि लगभग दो बजे कोतवाली क्षेत्र के फिल्टर रोड पर एक बाइक आती दिखाई दी। जिस पर तीन लोग सवार थे, शंका होने पर उन्हे रोकने का इशारा किया। जिस पर वे पुलिस को देखकर भागने लगे लेकिन पुलिस ने घेराबन्दी कर उन्हंे दबोच लिया और तलाशी ली तो उन तीनों के पास 14 मोबाइल के साथ तीन अदद तमन्चे और 6 जिन्दा कारतूस बरामद हुये। पुलिस द्वारा सख्ती से पूछताछ करने पर मुन्नालाल पावर हाऊस निवासी शादाब मंसूरी पुत्र रियाजुल हक ने बताया कि उसके दोनों साथी फिल्टर रोड निवासी शोएब खान पुत्र अजमेरी और प्रेमनगर नूर रोड निवासी रोहित बालमीकि दिलीप तीनों मिलकर आये दिन हाइवे पर तमन्चा अड़ाकर लोगों को लूटते थे। पुलिस के मुताविक उक्त तीनों शातिर बदमाश कई दिनों से वारदतों को अन्जाम दे रहे थे और पुलिस की पकड़ से दूर थे।

एसपी सिटी दिनेश कुमार ने बताया कि पकडे़ गये। तीनों लडके मध्यम वर्गीय परिवारों से है और अपने शौक पूरे करने के लिये लुटेरे बन गये। उन्होंने पुलिस के सामने कई वारदातों को अंजाम देना स्वीकार किया है। पुलिस टीम में स्वाट टीम के विक्रम सिंह के साथ सिपाही नरेन्द्र कुमार, शत्रुंजय प्रताप सिंह, चन्द्रशेखर, दुर्गेश चौहान, संजीव शर्मा, मनोज कुमार, अंजुल यादव, सर्वेश कुमार, प्रदीप द्विवेदी आदि शामिल थे।

Updated : 2017-02-10T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top