Latest News
Home > Archived > मुंगावली में खिलेगा कमल, ताकत है तो लगा रहे हैं: प्रभात झा

मुंगावली में खिलेगा कमल, ताकत है तो लगा रहे हैं: प्रभात झा

मुंगावली में खिलेगा कमल, ताकत है तो लगा रहे हैं: प्रभात झा
X

अशोकनगर/ग्वालियर। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं सांसद प्रभात झा ने कहा कि हम मुंगावली और कोलारस दोनों सीटों पर हमारी गहरी पैठ है। तथा हम दोनों सीटों को जीतने की संभावनाओं की ओर बड़ रहे हैं। श्री झा ने यह बात शनिवार को विश्रामगृह में एक पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कही। इस अवसर उनके साथ प्रदेश सरकार के मंत्री लाल सिंह आर्य, विधायक गोपीलाल जाटव एवं जिलाध्यक्ष जयकुमार सिंघई भी उपस्थित थे। श्री झा ने पत्रकार वार्ता के दौरान मुख्यमंत्री द्वारा अभी तक मुंगावली क्षेत्र में की गई घोषणायें और उनके क्रियान्वयन का ब्योरा पत्रकारों के समक्ष रखते हुए कहा कि जो काम इस क्षेत्र में अभी तक नहीं हुए मुख्यमंत्री जी ने ऐतिहासिक काम कर विकास की सौगातें दीं है।

वहीं पत्रकारों के सवालों के जवाब में उन्होंने कहा कि कांग्रेस का चेहरा सदैव ही दलित विरोधी रहा है, अब सच्चाई सबके सामने है। साथ ही उन्होंने कहा कि संभावनाओं के तौर पर मुंगावली में कमल खिलने जा रहा है, भारतीय जनतापार्टी मुंगावली और कोलारस दोनों सीटों पर गहरी पैठ बना चुकी है और जीत की ओर बढ़ रही है। साथ ही कहा कि अब तक शोषित सहरिया समाज के चेहरे पर अब चमक दिखाई देने लगी है और वह कांग्रेस से मुक्ति पा रहे हैं।

मुंगावली में मंत्रियों की ताकत झोंके जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि जिसके पास ताकत है वही तो ताकत लगाएगा, जिसके पास कुछ भी नहीं है वह क्या करेगा? श्री झा ने दो टूक कहा कि अगर हमें और भी ताकत लगाना पड़े तो हम लगाएंगे। उन्होंने कहा कि जो यहां से सांसद हैं उनके द्वारा कभी मुख्यमंत्री जी मिलकर विकास की बात नहीं की गई, इस बात के सीएम हाउस में लगे सीसीटीवी कैमरे गवाही हैं। उन्होंने कहा कि झूठी पट्टिकायें लगाने से विकास नहीं होता विकास के लिए संघर्ष करना पड़ाता है। सांसद प्रभात झा ने मुख्यमंत्री के अशोकनगर न आने के सवाल पर हिस से कहा कि मुख्यमंत्री जी ने उज्जैन के सिंहस्थ का मिथक तोड़ा है, इसी प्रकार अशोकनगर का भी मिथक तोड़ेंगे। उन्होंने अशोकनगर में केन्द्रीय विद्यालय की मांग पर कहा कि मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावडेकर को पत्र विधायक गोपीलाल जाटव के माध्यम से लिखा जाएगा तथा यहां जल्द ही केन्द्रीय विद्यालय खोला जाएगा।

Updated : 2017-12-31T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top