Home > Archived > पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा - अब कोई पंजा गरीबों के हक को नहीं मार सकता

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा - अब कोई पंजा गरीबों के हक को नहीं मार सकता

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा - अब कोई पंजा गरीबों के हक को नहीं मार सकता
X

ऊना। हिमाचल के ऊना में पीएम नरेंद्र मोदी ने हिमाचल विधानसभा 2017 चुनाव के मद्देनजर एक विशाल जनसभा को संबोधित किया।इस दौरान पीएम ने कहा कि मैं हिमाचल के हर जिले से भली भांति परिचित हूं। हवा का रूख साफ कह रहा है कि बीजेपी की आंधी चल रही है।

मोदी ने कहा कि इस बार चुनाव में मजा नहीं आ रहा है क्योंकि चुनाव एकतरफा हो गया है। कांग्रेस मैदान छोड़ चुकी है। मोदी ने कहा कि अब कोई पंजा गरीबों के हक को नहीं मार सकता है।कांग्रेस सरकार में 100 में 85 पैसे कांग्रेस के पास जाते थे। मोदी ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी एक ऐसे डॉक्टर थे जो बीमारी बता देते थे लेकिन उसका इलाज नहीं करते थे।

मोदी ने कहा कि हमने भ्रष्टाचार पर लगाम लगाया।एलपीजी को आधार से जोड़कर कालाबाजारी रोकी वहीं स्कूलों में टीचर सैलरी ले रहे थे लेकिन स्कूल केवल कागजों में जाते थे।वहीं विधवा पेंशन और बच्चियों के जन्म पर पैसा वसूल रहे थे इन सब पर लूट खसोट पर लगाम लगाया। आधार कार्ड की वजह से 57 हजार करोड़ रुपया जो बिचौलियों की जेब में जाता था उसको बंद कर दिया है। सारे विपक्षी दल हैरान परेशान है।

प्रधानमंत्री ने रविवार को हिमाचल के ऊना में कांग्रेस पर फिर से निशाना साधते हुए कहा कि बेनामी संपत्ति की चर्चा राजीव गांधी के समय बड़ी होती थी। सारी समस्याएं हमें विरासत में मिली है। अब इनके जनक हमसे जबाव मांग रहे हैं। कांग्रेस ने तीस साल तक बेनामी संपत्ति के कानून को ठंडे बस्ते में डाल दिया। हमने इस कानून में कड़े प्रावधान से साथ लागू किया है। अब विपक्ष परेशान है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के समय दिल्ली से एक रुपया जब निकलता था तो मात्र 15 पैसे ही गांव में पहुंच पाते थे। मोदी ने कहा कि यह बात खुद उस समय के प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने मानी पर इसका इलाज नहीं बताया लेकिन 2014 के बाद सारा पैसा गांव में पहुंचना शुरू हो गया है। मोदी ने पूछा कि यह कांग्रेस का कौन-सा पंजा था जो कम करता था। 2014 में ऐसे आदमी को जनता ने बैठाया जिसने तय किया है कि दिल्ली से एक रुपया निकलेगा तो सौ के सौ पैसे जनता के पास पहुंचेगे। यह हमने करके दिखाया है। अब कोई पंजा उस पर हाथ नहीं मार सकता। नोटबंदी को सही ठहराते हुए मोदी ने कहा कि अगर नोटबंदी न हुई होती तो कश्मीर के आतंकी को पैसे कहां से आते कभी पता नहीं चलता। कश्मीर की जनता इससे हमारी साथ हो गई। सेना पर पत्थर मारे जाते थे। पत्थरबाजी नोटबंदी से बंद हो गई। कांग्रेस को इससे परेशानी है। उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस के लोग ब्लैक-डे मनाएगी तो यह देश एंटी ब्लैक-डे मना करके रहेगा। यह दवाब पैदा कर रहे हैं कि मोदी सख्त कानून न बनाए। नोटबंदी से तीन लाख फर्जी खाते बंद हो गए। एक कंपनी तो ऐसी थी कि उसके 2100 बैंक अकांउट थे। मोदी ने कहा कि नौ नवम्बर को हिमाचल में एक बार फिर से धूमल की सरकार बनाइए और मुझे दिल्ली से हिमाचल की सेवा करने का अवसर दीजिए। उन्होंने कहा कि हिमाचल में भाजपा की एक तरफ जीत होगी।

मोदी ने कहा कि किसी भी व्यापारी संगठन ने जीएसटी का विरोध नहीं किया है। देश ने जीएसटी का स्वागत किया है। जीएसटी के कारण चूंगी टैक्स खत्म हुआ और माल ढोने का खर्च कम हुआ। जीएसटी की समस्याओं को दूर किया जा रहा है। जीएसटी काउंसिल की नौ और 10 नवम्बर को बैठक होने वाली है, जिसमें रह गई कमियों को दूर किया जाएगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि ऊना हमीरपुर रेल लाइन जल्द ही बन कर तैयार हो जाएगी। हिमाचल में पर्यटन को बढ़ावा देना है तो हिमाचल में अच्छी सड़क सुविधा होनी चाहिए। अटल और धूमल ने हिमाचल में पर्यटन को बढ़ावा दिया। मोदी ने कहा कि हिमाचल में भ्रष्टाचार, कानून-व्यवस्यथा व महिलाओं के सम्मान के खिलाफ जन सामान्य का गुस्सा उमड़ पड़ा है। इस बार हिमाचल का चुनाव पहली वार हिमाचल की जनता लड़ रही है। कहा कि मुझे इस बार चुनाव में इस बात की पीड़ा रहेगी कि मजा नहीं आ रह। क्योंकि कांग्रेस पार्टी मैदान छोड़कर भाग गई। प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस का चाल-चलन और ईरादे जनता भली-भांती जान चुकी है। अब देश की जनता को तुलनात्मक अध्ययन करने का अवसर मिला है। नक्कमी सरकार को भी देखने का जनता को अवसर मिला है।

Updated : 2017-11-05T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top