Latest News
Home > Archived > मैं जो बोलकर जाता हूं, वो काम तो होते ही नहीं हैं, आप क्या करते हो

मैं जो बोलकर जाता हूं, वो काम तो होते ही नहीं हैं, आप क्या करते हो

मैं जो बोलकर जाता हूं, वो काम तो होते ही नहीं हैं, आप क्या करते हो
X

-25 को वार्षिक निरीक्षण पर आ सकते हैं मुख्य महाप्रबंधक
-मुख्य महाप्रबंधक के आने से पहले डीआरएम ने किया निरीक्षण
ग्वालियर। मैं यहां पर जो कार्य बोलकर जाता हूं, वो काम तो पूरे होते ही नहीं है। आप लोग क्या कर रहे हैं, क्या स्टेशन पर आते भी हो या नहीं। यह बात गुरूवार को झांसी से ग्वालियर पहुंचे डीआरएम अशोक कुमार मिश्र ने स्थानीय अधिकारियों से कही। 25 नवंबर को उत्तर मध्य रेलवे के मुख्य महाप्रबंधक एमसी चौहान वार्षिक निरीक्षण के लिए ग्वालियर आ सकते हंै। इसी के चलते गुरूवार को डीआरएम अशोक कुमार मिश्रा ग्वालियर स्टेशन की व्यवस्थाओं को देखने पहुंचे थे। श्री मिश्र दोपहर स्वर्ण जयंती से ग्वालियर पहुंचे व ट्रेन से उतरते ही वह सीधे प्लेटफार्म एक पर जा पहुंचे। जहां पर लिफ्ट के लिए चल रहे निर्माण कार्य के पास पड़ी मिट्टी को देखकर अधिकारियों से कहा कि यात्री पानी कैसे भरेंगे, आप लोग क्या देखते हो। यहां से मिट्टी को तुंरत हटाओ। निरीक्षण के दौरान स्टेशन मास्टर राजेश शुक्ला, सीनियर डीएन(नॉर्थ)अनुराग यादव, एडीई एके दीक्षित, वाणिज्य निरीक्षक अनिल श्रीवास्तव सहित अन्य लोग शामिल थे। निरीक्षण से पहले श्री मिश्रा ने सबसे पहले सभी अधिकारियों के साथ वीआईपी कक्ष में बैठक लेकर विकास कार्यो की समीक्षा की।

शौचालय को कब हटाया जाएगा

प्लेटफार्म क्रमांक एक पर बने पुराने शौचालय पर जब डीआरएम श्री मिश्रा की नजर पड़ी तो उन्होंने आईओडब्लू के अधिकारी से कहा कि मैं इसको तोड़ने के लिए कितनी बार बोल चुका हूं, इसे कब हटाया जाएगा। वहीं जब वह आगे की ओर बड़े तो शौचालय का गंदा पानी बहता हुआ दिखाई दिया। जिस पर उन्होंने अधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि आप लोग बड़े आलसी हो,कुछ बोलते भी नहीं हो। यह गंदगी क्या आपको दिखाई नहीं देती। डीआरएम अशोक कुमार मिश्र रेलवे कॉलोनी में भी निरीक्षण करने पहुंचे व जहां कमी दिखी वहां पर व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिए।

डीआरएम बोले, बारात की तरह क्यों चल रहे हो आप लोग

डीआरएम के आने की खबर मिलते ही सभी अधिकारी अपने कक्ष को छोड़कर डीआरएम के निरीक्षण में शामिल हुए तो उन्होंने कहा कि ये बारात की तरह क्यों चल रहे हो, आप लोग अपने कक्ष में जाकर कार्य करें। ज्ञात हो कि रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्विनी लोहानी ने एक आदेश जारी कर कहा था कि रेलवे अधिकारी निरीक्षण के दौरान किसी भी तरह का प्रॉटोकॉल न रखें।

ये निर्देश भी दिए

-सैलून साइडिंग में व्हाइट पॉश करने की बात स्थानीय अधिकारियों से कही।

-स्टेशन के मुख्यद्वार पर लगे बोर्ड को सुधारने के निर्देश दिए।

-नालियों में गंदगी थी। इस पर नाराजगी जाहिर करते हुए तत्काल सफाई के निर्देश दिए।

Updated : 2017-11-24T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top