Latest News
Home > Archived > भ्रष्टाचारियों ने बिलौआ को कर दिया बदनाम

भ्रष्टाचारियों ने बिलौआ को कर दिया बदनाम

भ्रष्टाचारियों ने बिलौआ को कर दिया बदनाम
X

-22 लाख के गबन और न.प. के घोटालों पर बोले स्थानीय जनप्रतिनिधि

ग्वालियर।
बिलौआ में अस्थाई दखल कर में 22 लाख रुपए का गबन और शासकीय योजनाओं में घोटाले करने वाले नगर परिषद अध्यक्ष सुनील चौरसिया और सीएमओ महेश दीक्षित की करतूतों पर प्रतिक्रिया देते हुए स्थानीय जनप्रतिनिधियों और राजनेताओं ने कहा कि नगर परिषद सीएमओ और अध्यक्ष के भ्रष्टाचार से बिलौआ बदनाम हो रहा है। कांग्रेस से जुड़े पूर्व न.प. अध्यक्ष ने भाजपा पर हमला बोलते हुए बिलौआ को बदनाम करने की बात कही। वहीं भाजपा नेताओं ने भ्रष्टाचार में संलिप्त अध्यक्ष की शिकायत संगठन में वरिष्ठ नेतृत्व और मंत्री से करने की बात कही। उल्लेखनीय है कि बिलौआ नगर परिषद में अस्थाई दखल कर के नाम पर वर्ष 2015 में मात्र 4 माह 10 दिन की अवधि में करीब एक करोड़ रुपए का गबन किया गया था। स्थानीय नागरिकों की शिकायत पर संज्ञान लेते हुए एसडीएम डबरा ने तहसीलदार के नेतृत्व में संयुक्त जांच दल गठित कर इस अवैध वसूली की जांच कराई थी, जिसमें 22 लाख रुपए से अधिक का घोटाला सामने आया था।

पूर्व अध्यक्ष पर घर में घुसकर चलाई थी गोली

बिलौआ नगर परिषद के चुनाव से पूर्व जब हरिओम चौरसिया बिलौआ नगर परिषद के अध्यक्ष थे, तब किसी विवाद को लेकर वर्तमान नगर परिषद अध्यक्ष सुनील चौरसिया ने तत्कालीन न.प. अध्यक्ष हरिओम चौरसिया पर उनके चौरसिया कॉलोनी गुढ़ा ग्वालियर स्थित मकान में घुसकर कट्टे से गोली चलाई थी। बदमाश सुनील चौरसिया द्वारा घर में घुसकर किए गए प्राणघातक हमले पर हरिओम चौरसिया ने थाना माधौगंज में हत्या के प्रयास का प्रकरण दर्ज कराया था।

पार्टी बदनाम हो रही है, वरिष्ठों के संज्ञान में लाऊंगा: जैन

भारतीय जनता पार्टी (ग्रामीण) के अध्यक्ष वीरेन्द्र जैन का कहना है कि नगर परिषद बिलौआ के अध्यक्ष सुनील चौरसिया और सीएमओ महेश दीक्षित द्वारा शासकीय राशि में किए गए गबन और घोटालों से पार्टी भी बदनाम हो रही है। शासन की कार्रवाई के संबंध में कुछ भी कहने से इंकार करते हुए उन्होंने कहा कि इस इस मामले को वह पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों और मंत्री जी के संज्ञान में लाकर भ्रष्टाचारियों पर शीघ्र कार्रवाई का अनुरोध करेंगे।

मामले को विधानसभा में उठाऊंगी: इमरती

डबरा विधायक इमरती देवी सुमन का कहना है कि भाजपा की बिलौआ नगर परिषद में घोटालों और न्यायालय के आदेश के बाद भी नगर परिषद अध्यक्ष सुनील चौरसिया को हटाने की कार्रवाई नहीं किए जाने के मामले को वह विधानसभा में उठाएंगी। उन्होंने कहा कि मुंगावली विधानसभा के चुनाव प्रचार से लौटकर वह अवैध वसूली और अध्यक्ष को हटाए जाने के मामलों को लेकर जिलाधीश से मिलेंगी तथा न्यायालय के आदेश के परिपालन में शीघ्र कार्रवाई के लिए आग्रह करेंगी।

भाजपा ने बहाई भ्रष्टाचार की गंगा: चौरसिया

नगर परिषद बिलौआ के पूर्व अध्यक्ष एवं कांग्रेस नेता हरिओम चौरसिया ने कहा कि नगर परिषद के भ्रष्टाचारियों ने हमारे बिलौआ को बदनाम कर दिया। भाजपा ने पूरे देश में भ्रष्टाचार की गंगा बहाई है, जो बिलौआ नगर परिषद में भी प्रवाहित हो रही है। मेरे कार्यकाल में विकास कार्यों में किसी भी प्रकार का भ्रष्टाचार अथवा अवैध वसूली की शिकायत सामने नहीं आई, लेकिन सुनील चौरसिया के अध्यक्ष बनने के बाद लाखों-करोड़ों के घोटालों और गबन जैसे मामलों से नगर परिषद बदनाम हो गया। घोटालों में चुराए गए करोड़ों रुपए विकास कार्यों में लगते तो बिलौआ आज प्रदेश की सबसे विकसित नगर परिषद होती। श्री चौरसिया ने कहा कि ‘स्वदेश’ द्वारा उजागर किए गए घोटालों और लाखों के गबन को लेकर वह शासन और सामाजिक स्तर पर लड़ाई लड़ेंगे तथा भ्रष्टाचारियों के कारनामों को उजागर करने के लिए समाज के बीच जाएंगे।

पार्टी भी बदनाम हो रही है: शर्मा

बिलौआ नगर परिषद में अध्यक्ष सुनील चौरसिया और सीएमओ महेश दीक्षित द्वारा किए जा रहे घोटालों और गबन पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा ग्रामीण के बिलौआ मंडल अध्यक्ष कालीचरण शर्मा ने कहा कि ‘स्वदेश’ द्वारा उजागर किए जा रहे गबन व घोटाले पार्टी पदाधिकारियों और अधिकारियों के संज्ञान में हैं। निश्चिित ही संगठन और सरकार इन घोटालों पर संज्ञान लेकर उचित कदम उठाएगी, लेकिन चूंकि सुनील चौरसिया भाजपा के टिकट पर लड़कर अध्यक्ष बने हैं। इस कारण पार्टी पर भी भ्रष्टाचार के आरोप लग रहे हैं। विरोधी दलों के राजनेता क्षेत्र में इस भ्रष्टाचार को प्रचारित कर पार्टी की बदनामी कर रहे हैं। हम इस बात की जानकारी पार्टी नेतृत्व के संज्ञान में लाकर भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई की मांग करेंगे।

Updated : 2017-10-30T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top