Top
Home > Archived > अब राजधानी और शताब्दी की होगी रैंकिंग

अब राजधानी और शताब्दी की होगी रैंकिंग

अब राजधानी और शताब्दी की होगी रैंकिंग

जल्द जारी होंगे निर्देश, ट्रेनों में सफाई के लिए मिलेंगे अंक
सफाई में रैंकिंग के हिसाब से दिए जाएंगे अंक


ग्वालियर|
आप जिस ट्रेन में यात्रा कर रहे हैं उसमें कितनी सफाई होती है, ट्रेनों में रेलवे अधिकारी साफ सफाई का कितना ध्यान रखते हैं,इसका मूल्यांकन करने के लिए अब रेलवे जल्द ही ट्रेनों में सफाई की रैंकिंग शुरू करने जा रहा है । रेलवे जल्द ही समस्त जोनल रेलवे प्रबंधक व डीआरएम को सफाई व्यवस्था के लिए संबंधित दिशा निर्देश जारी करने वाला है। पिछले एक साल से जहां शहर को स्वच्छ और सुंदर बनाने का कार्य चल रहा है वहीं शहर को स्वच्छ बनाने के लिए जनता भी सहयोग कर रही है। उधर अब रेलवे भी ट्रेनों में सफाई के प्रति गंभीर दिखाई दे रहा है। ज्ञात हो कि रेलवे ने बीते वर्ष ग्वालियर सहित अन्य स्टेशनों की सफाई व्यवस्था की रंैकिंग जारी की थी। लेकिन उसके बाद भी स्टेशनों की सफाई व्यवस्था ज्यों की त्यौं है।

रेलवे राजधानी एक्सप्रेस, शताब्दी एक्सप्रेस, दुरंतो सहित सुपरफास्ट और प्रमुख मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों को शामिल कर रंैकिंग जारी करेगा। इसके लिए ट्रेनों में सफाई की रंैंकिंग निजी कंपनी की टीमें करेंगी। इसमें रेलवे आईआरसीटीसी की मदद लेगा व ट्रेनों की सफाई रंैंकिंग में ट्रेनों के बाहरी हिस्से से लेकर कोच के भीतर व शौचालय सफाई व्यवस्था को शामिल करेगा। उसके आधार पर ट्रेनों को सफाई के लिए अंक दिए जाएंगे।
इस दौरान ट्रेन की सफाई का निरीक्षण करने के अलावा रेल यात्रियों का साक्षात्कार किया जाएगा। इसमें रेल अधिकारियों से सफाई के बारे में जानकारी ली जाएगी।

इनको किया जाएगा रैंकिंग में शामिल
कोच की फर्श, छत, बर्थ, प्रकाश व्यवस्था, एसी, बेडरोल, वॉशबेसन, कूड़ादान, शौचालय की सफाई को शामिल किया जाएगा। इसके अलावा पेंट्रीकार की सफाई व खाना बनाने के बर्तन-उपकरण, वेंडर व रसोइया की वर्दी आदि को भी रैंकिंग में शामिल किया जाएगा। कोच, पेंट्रीकार, शौचालय में बदबू दूर करने के लिए कैमिकल व सुगंधित चीजों का प्रयोग किया जाता है अथवा नहीं, इन सभी को शामिल कर रंैकिंग दी जाएगी।

बीच के स्टेशनों पर कितनी बार होती है सफाई
-लंबी दूरी की ट्रेनों में प्रस्थान करने के बाद बीच के स्टेशनों पर कितनी बार
सफाई होती है।
-जिस स्टेशनों से ट्रेन प्रारंभ होती है ,वहां पर सफाई की क्या व्यवस्था है?
-सफाई कर्मचारी ट्रेनों में कितनी बार सफाई करते हंै।
-ट्रेनों के शौचालय में कितनी बार सफाई होती है।

इन ट्रेनों को किया जाएगा रंैकिंग में शामिल
-राजधानी एक्सप्रेस
-शताब्दी एक्सप्रेस
-दुरंतो एक्सप्रेस
-मेल-एक्सप्रेस व सुपरफास्ट ट्रेनें

1 से 5 तक बनेंगे स्तर
रैंकिंग व्यवस्था में ट्रेनों में सफाई के लिए 1 से लेकर 5 स्तर बनाएं जाएंगे। जिसके आधार पर ट्रेनों को सफाई के लिए अंक दिए जाएंगे। इसमें सबसे पहला अंक 1, जो बहुत अच्छा, 2 अंक अच्छा, 3 अंक सामान्य, 4 अंक औसत व 5 अंक निम्न स्तर का होगा। इन्हीं अंकों के आधार पर ट्रेनों को अंक दिए जाएंगे।

आदेश का है इंतजार
ट्रेनों में सफाई व्यवस्था को लेकर रेलवे जल्द ही सभी जोनलों के रेलवे प्रबंधक व डीआरएम को आदेश जारी करने वाला है। आदेश मिलते ही सभी अधिकारी ट्रेनों में रैकिंग देने का काम शुरू करेंगे।

Updated : 2017-01-20T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top