Latest News
Home > Archived > भारत-श्रीलंका की संस्कृति में एक दूसरे ले लिए अपनापन: प्रधानमंत्री

भारत-श्रीलंका की संस्कृति में एक दूसरे ले लिए अपनापन: प्रधानमंत्री

भारत-श्रीलंका की संस्कृति में एक दूसरे ले लिए अपनापन: प्रधानमंत्री
X

भारत-श्रीलंका की संस्कृति में एक दूसरे ले लिए अपनापन: प्रधानमंत्री

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना ने जाफना में भारत की मदद से दोबारा बनाए गए दुरईअप्पा स्टेडियम का संयुक्त रूप से उद्घाटन किया। कार्यक्रम का आयेाजन जाफना में हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली से वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए जुड़े लेकिन श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना उस समय उस स्टेडियम में मौजूद थे।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा, “जिस समय मैं पिछले साल जाफना में था जैसा वहां के लोगों ने प्यार दिखाया वो आज भी मेरे जेहन में ताज़ा है। योग दिवस को संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावना में शामिल किए जानवाले समर्थक देशों में सबसे पहला समर्थक श्रीलंका ही था।”

मोदी ने कहा कि दुरईअप्पा स्टेडियम सिर्फ सिर्फ ईंट और चूना ही नहीं बल्कि आर्थिक विकास का एक संकेत है। उन्होंने कहा हमारे बीच आपसी संबंध सिर्फ दो सरकारों तक ही सीमित नहीं है बल्कि उससे कहीं आगे समृद्ध संस्कृति और भाषा एक दूसरे से जोड़ती है।

इस मौके पर श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना ने कहा, "यह एक ऐतिहासिक अवसर है जो भारत-श्रीलंका के बीच आपसी संबंधों को और मजबूत करेगा। इसके लिए मैं भारत सरकार का धन्यवाद देना चाहूंगा कि उन्होंने दुरईअप्‍पा स्‍टेडियम की मरम्मत के लिए वित्तीय सहायत दी।"

उल्लेखनीय है कि दुरईअप्पा स्टेडियम को भारत सरकार द्वारा 7 करोड़ रुपये से भी ज्‍यादा लागत से नवनिर्मित किया गया है। दुरईअप्पा स्टेडियम का नाम जाफना के पूर्व महापौर स्वर्गीय अल्फ्रेड थम्बीराजा दुरईअप्पा के नाम पर उनके सम्मान में रखा गया है।

Updated : 2016-06-18T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top