Home > Archived > भारत-थाईलैंड में समुद्री और रक्षा क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर सहमति

भारत-थाईलैंड में समुद्री और रक्षा क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर सहमति

भारत-थाईलैंड में समुद्री और रक्षा क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर सहमति
X

भारत-थाईलैंड में समुद्री और रक्षा क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर सहमति


नई दिल्ली। भारत और थाईलैंड ने समुद्री क्षेत्र और रक्षा में सहयोग बढ़ाने पर सहमति जताई है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने थाईलैंड के अपने समतक्ष प्रयुत चान-ओ-चा के साथ शुक्रवार को द्विपक्षीय बैठक की। बैठक में दोनों देशों के बीच आतंकवाद, समुद्री सुरक्षा, रक्षा और व्यापार संबंधों को बढ़ावा देने और आपसी सहयोग सुदृढ़ बनाने पर वार्ता हुई।
दिल्ली के हैदराबाद हाउस में हुई बैठक के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत थाईलैंड के साथ आतंकवाद को खात्मा करने में घनिष्ठ संबंधों की कामना करता है ताकि सुरक्षा साझेदारी से हमारे लोगों को सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने कहा कि दोनों देशों ने भारत-म्यांमार-थाई सड़क परियोजना को जल्द से जल्द पूरा करने पर जोर दिया। भारत और थाईलैंड समुद्री पड़ोसी भी हैं इसलिए हमारे बीच इस क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर सहमति बनी।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि द्विपक्षीय बैठक में दोनों देशों ने आपसी हित के सभी द्विपक्षीय समझौतों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि भारत और थाईलौंड के संबंध साझा सांस्कृतिक विकास पर स्थापित हैं। हमारे 70 साल के राजनयिक संबंधों के अवसर पर हम अगले साल थाईलैंड के कई सांस्कृतिक कार्यक्रम भारत में मनाएंगे और भारत के सांस्कृतिक कार्यक्रम थाईलैंड में। इसके साथ ही हम भारत-थाईलैंड बिजनेस फोरम का भी स्वागत करते हैं।
थाईलैंड के प्रधानमंत्री प्रयुत चान-ओ-चा ने कहा कि दोनों देशों के लोगों से लोगों के बीच अच्छा संपर्क है जिसमें कभी कोई दिक्कत महसूस नहीं की गई। इस क्षेत्र में विस्तार की अपार संभावनाएं हैं।
उन्होंने कहा कि बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने भारतीय कारोबारियों को थाईलैंड में निवेश करने के लिए प्रोत्साहित करने पर सहमति जताई और मेंने थाई व्यपारियों को भारत में निवेश करने के लिए प्रोत्साहन देने पर अपनी सहमति जताई। थाईलैंड के प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे रिश्तों को बढ़ावा देने से विभिन्न क्षेत्रों में हमारी मौजूदा साझेदारी को बढ़ावा मिलेगा।
थाईलैंड के प्रधानमंत्री प्रयुत चान-ओ-चा गुरुवार को अपनी तीन दिवसीय यात्रा के लिए भारत आएं हैं। बतौर प्रधानमंत्री चान-ओ-चा की भारत की यह पहली यात्रा है। शुक्रवार सुबह राष्ट्रपति भवन में उनका औपचारिक स्वागत किया गया। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग उपस्थित थे। उसके पश्च्यात वह राजघाट गए जहाँ उन्होंने महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की I प्रधानमंत्री मोदी ने प्रयुत चान-ओ-चा के सम्मान में दोपहर का भोज दिया। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी उनके साथ भेंट की। अपनी तीन दिवसीय यात्रा के दौरान थाई प्रधानमंत्री उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी से भी मिलेंगे I वह बोध गया भी जायेंगे I

Updated : 2016-06-17T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top